निर्भया केस में राजनीति जारी, दिल्ली में आज होगा सत्याग्रह

हाथरस गैंगरेप के बाद से देश में राजनीति गरमाती हुई नजर जा रही है। राज्य सरकार ने पूरे मामले पर सीबीआई जांच के आदेश दे दिए है।

0
227
Hathras case
हाथरस गैंगरेप के बाद से देश में राजनीति गरमाती हुई नजर जा रही है। राज्य सरकार ने पूरे मामले पर सीबीआई जांच के आदेश दे दिए है।

New Delhi: हाथरस गैंगरेप के बाद से देश में राजनीति गरमाती हुई नजर जा रही है। राज्य सरकार ने पूरे मामले पर सीबीआई जांच (Hathras case) के आदेश दे दिए है। साथ ही एसआईटी की टीम जांच कर चुकी है। लेकिन कांग्रेस नेता राहुल गांधी के दौरे के बाद लगातार नेताओं का आना जारी हैं। एक तरफ कांग्रेस नेता योगी सरकार पर पलटवार (Hathras case) करते हुए नजर आ रहे है, तो वहीं दूसरी तरफ सपा कार्यकर्ताओं ने तो हाथरस में बवाल मचाया हुआ हैं। अब इस केस में नया मोड सामने आ रहा है।

सीएम योगी सरकार का कहना है कि यूपी में दंगे (Hathras case) भड़काने की कोशिश की जा रही है। दूसरी तरफ, सोमवार को दिल्ली कांग्रेस के प्रमुख अनिल कुमार राजघाट पर सत्याग्रह करेंगे। हाथरस पीड़िता को इंसाफ दिलाने के लिए कांग्रेस की ओर से लगातार देश के अलग-अलग हिस्सों में  (Hathras case) प्रदर्शन किया जा रहा है, जो सोमवार को भी जारी रहेगा। 

हाथरस केस CBI तक पहुंचा, क्या पीड़ित परिवार को मिलेगा इंसाफ?

कांग्रेस नेता उदित राज ने भी इस बीच दिल्ली से हाथरस तक मार्च (Hathras case) निकालने की बात कही है। रविवार को भीम आर्मी के चंद्रशेखर, समाजवादी पार्टी के प्रतिनिधियों ने पीड़िता के परिवार से मुलाकात की थी। इसके अलावा रालोद के जयंत चौधरी जब हाथरस (Hathras case) पहुंचे, तो उनके समर्थकों पर लाठीचार्ज कर दिया गया था। 

परिवार ने नार्को टेस्ट कराने से किया इनकार, डीएम ने दी थी धमकी

आपको बता दें कि हाथरस में 14 सितंबर को 19 साल की दलित लड़की से गैंगरेप (Hathras case) की घटना हुई थी, जिसके बाद 29 सितंबर को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में उसकी मौत हो गई थी। इसके बाद आनन-फानन में देर रात को ही यूपी पुलिस ने (Hathras case) उसका अंतिम संस्कार कर दिया, तब से ही  इस मामले में राजनीति शुरु हो गई है। अब यूपी सरकार ने इस मामले की जांच सीबीआई से कराने की सिफारिश की है। हालांकि, परिवार की ओर से न्यायिक जांच की मांग की जा रही है। यानी परिवार वाले सीबीआई जांच नहीं करवाना चाहती।  परिवार वालों का कहना है कि हम सुरक्षित नहीं है, हमे खतरा हैं। 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें और Twitter पर फॉलो करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here