J&K: हंदवाड़ा में 5 जवान शहीद, PM मोदी और रक्षामंत्री ने दी श्रद्धांजलि

0
510
पीएम मोदी

जम्मू-कश्मीर के हंदवाड़ा में सुरक्षाबलों और आंतकियों के बीच एनकाउंटर में 21 राष्ट्रीय रायफल्स के कमांडिंग कर्नल ऑफिसर आशुतोष शर्मा, मेजर अनुज सूद समेत पांच लोग शहीद हो गए हैं. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शहीदों को देश का नुकसान बताते हुए कहा कि उनका बलिदान कभी भी नहीं भुलाया जा सकता, उन्होंने हंदवाड़ा में आतंकियों से लड़ते हुए अदम्य साहस और बलिदान का परिचय दिया है.

रक्षा मंत्री ने ट्वीटर पर लिखा, ‘हंदवाड़ा में जवानों और सुरक्षाकर्मियों का शहीद होना दुखद और परेशान करने वाला है. हमारे सभी जवानों ने आंतकियों से लड़ने में अदम्य साहस का परिचय दिया है. उन्होंने अगले ट्वीट में लिखा- “मैं हंदवाड़ा में आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई के दौरान शहीद हुए सैनिकों और सुरक्षाकर्मियों को श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं. मेरी संवेदनाएं शहीदों के परिवार के साथ हैं. भारत इन बहादुर शहीदों के परिवार वालों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा है.”

कोरोना महामारी से लड़ाई के बीच जम्मू-कश्मीर में आतंकियों से लड़ाई जारी है. लेकिन रविवार सुबह उस दुखद खबर मिली कि हंदवाड़ा के राजवार इलाके में मुठभेड़ के दौरान पांच सुरक्षाकर्मी शहीद हो गए. शहीद सुरक्षाकर्मियों में 21 राष्ट्रीय राइफल्स के कमांडिंग ऑफिसर कर्नल आशुतोष शर्मा, मेजर अनुज सूद, नायक राकेश, लांस नायक दिनेश के साथ जम्मू कश्मीर पुलिस के सब इंस्पेक्टर शकील काजी शहीद हो गए. हालांकि, सुरक्षाकर्मियों ने मुठभेड़ में 2 आतंकी को भी ढेर कर दिया. मरने वाले दोनों आतंकी लश्कर-ए-तैयबा के थे. एक आतंकी स्थानीय बताया जा रहा है.

कमांडिंग ऑफिसर कर्नल आशुतोष शर्मा, 21-राष्ट्रीय राइफल्स की कमान संभाल रहे थे. 21-राष्ट्रीय राइफल्स हंदवाड़ा इलाके में निगेहबानी करती है. और कर्नल आशुतोष शर्मा एक जांबाज ऑफिसर. शुक्रवार को जैसे ही उन्हें आतंकियों के छिपे होने की जानकारी मिली वो अपनी टीम का नेतृत्व करते हुए सर्च ऑपरेशन के लिए निकल पड़े. लेकिन जिस घर में आतंकियों के छिपे होने की जानकारी मिली थी असल में वो वहां नहीं थे.

कर्नल आशुतोष शर्मा आतंकियों को घेरने जिस घर में दाखिल हुए आतंकी उसी घर में थे. शनिवार दोपहर को बाहर से कमांड ले रहे ऑफिसर्स का कमांडिंग ऑफिसर से संपर्क टूट गया. रविवार को सर्च ऑपरेशन में एक घर से 7 शव बरामद हुए. इसमें दो आतंकी और पांच सुरक्षाकर्मियों के शव थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here