Hathras Case: हाईकोर्ट में सुनवाई आज, पीड़ित परिवार की कोर्ट में होगी पेशी

0
151
Fast Track Court
हाथरस केस में पुलिस ने पीड़ित परिवार की मर्जी के बिना अंतिम संस्कार किया था। जिसके चलते आज हाईकोर्ट में सुनवाई होगी।

Lucknow: हाथरस केस में पुलिस प्रशासन ने पीड़ित परिवार की मर्जी के बिना रातोरात अंतिम संस्कार कर दिया था। जिसके चलते आज हाईकोर्ट (Fast Track Court) में सुनवाई होगी। बता दें सोमवार की सुबह भारी पुलिस बल के साथ पीड़ित परिवार हाथरस से लखनऊ के लिए रवाना हो गया है। एसडीएम अंजली गंगवार सीओ शैलेन्द्र बाजपेयी भी पीड़ित परिवार के साथ लखनऊ (Fast Track Court) रवाना हुई है। जनपद के डीएम प्रवीन लक्ष्यकार भी परिवार के साथ मौजूद हैं। छह गाड़ियों के काफिले के साथ पीड़ित परिवार के पांच सदस्य आज लखनऊ हाईकोर्ट पहुचेंगे जहां 2 बजे पीड़ित परिवार हाईकोर्ट में पेश होगा।

इस मामले में राजनीति का मोड़ सामने आया था। जिसके बाद पुलिस प्रशासन ने पूरे मामले को रफा-दफा करने की कोशिश की थी। तब से पीड़ित परिवार न्याय (Fast Track Court) की गुहार लगा रहा है। साथ ही विपक्ष योगी सरकार पर वॉर करने से नही चूक रहा। ऐसे में सवाल यह उठता है कि क्या हाईकोर्ट इस मामले को पीड़ित परिवार के पक्ष में देगा या आगे भी राजनीति गरमाती रहेगी।

हरियाणा के खरखौदा से कांग्रेस विधायक जयवीर सिंह ने पीड़ित परिवार (Fast Track Court) से मुलाकात की। उनकी समस्याओं को जाना। उन्होंने कहा, इस परिवार के साथ जो घटना घटी वह शर्मनाक घटना है। इसे समाज सहन नहीं करेगा। जब तक न्याय नहीं मिलेगा जब तक पूरे देश में संघर्ष जारी रहेगा। इस परिवार को न्याय मिलना जरूरी है। दोषियों को सख्त सजा मिलनी चाहिए। यह परिवार सीधा है। इस परिवार को पता नहीं कि आखिर कौन सी संस्था उन्हें न्याय देगी, लेकिन परिवार न्याय चाहता है। वह चाहते हैं कि सुप्रीम कोर्ट के सिटिंग जज से जांच कराई जाए।

हाथरस कांड में आया नया ट्विस्ट, भाई और आरोपी के बीच हुई बातचीत

उत्तर प्रदेश के हाथरस में दलित युवती के साथ हुए कथित गैंगरेप और मौत केस की जांच (Hathras Rape Case) को सीबीआई ने अपने हाथों में ले लिया है। अधिकारियों ने कहा कि जांच एजेंसी के लिए अधिसूचना जारी कर दी गई है और इस मामले को फोरेंसिक विशेषज्ञों के साथ जांच दलों को अपराध स्थल पर भेजा जाएगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस केस की सीबीआई से जांच कराने की सिफारिश की थी। जिसको बाद अधिकारी जांच पड़ताल कर रहे है।

हाथरस केस CBI तक पहुंचा, क्या पीड़ित परिवार को मिलेगा इंसाफ?

आपको बता दें युवती के परिवार की सुरक्षा का पूरा इंतजाम (Hathras Rape Case) किया गया है। परिवार की सुरक्षा की पूरी जिम्मेदारी डीआईजी शलभ माथुर संभाल रहे हैं। शलभ ने बताया था कि जरूरत पड़ने परिवार के रहने का इंतजाम भी किया जाएगा। साथ ही कहा कि युवती के परिवार की सुरक्षा के लिए 60 सुरक्षाकर्मी तैनात किये गए हैं और सीसीटीवी कैमरों की मदद से युवती के घर की 24 घंटे निगरानी की जा रही है।


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here