Election 2024 :केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस खोला वादों का पिटारा

0
201

Election 2024 : दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में लोकसभा चुनाव के लिए लोगों को 10 गारंटी दी। उन्होंने कहा कि उन्हें गिरफ्तारी की वजह से कुछ देरी हो गई, लेकिन वे अभी भी चुनाव के कई चरणों में लड़ेंगे। उन्होंने भारत के विकास के लिए गारंटी दी और इंडिया ब्लॉक की सरकार बनने के बाद इसे पूरा करने का भरोसा दिया। उन्होंने देश को मोदी और केजरीवाल के बीच गारंटी की चुनौती दी और जनता से यह फैसला करने को कहा।

सीएम केजरीवाल ने कहा कि पीएम मोदी ने अपने भाषणों में कई गारंटियां दी हैं, जैसे 15 लाख रुपए देने का वादा, हर साल 2 करोड़ रोजगार का आश्वासन, स्वामीनाथन रिपोर्ट के लागू होने का दावा, 2022 में किसानों की आय डबल करने का वादा, 2022 में 24 घंटे बिजली उपलब्ध कराने का वादा, साबरमती और मुंबई के बीच बुलेट ट्रेन की गारंटी और 100 स्मार्ट सिटियों की गारंटी। लेकिन इन गारंटियों को पूरा करने में कोई सफलता नहीं मिली।

केजरीवाल ने इसके विपरीत, अपने कामों से अपनी गारंटी को पूरा किया है। उन्होंने स्कूलों और मोहल्ला क्लीनिकों की स्थापना करके अपने दावे को साबित किया है। उन्होंने कहा कि मोदी की और केजरीवाल की गारंटी में अंतर है, और उन्होंने जनता से पूछा कि किस गारंटी पर भरोसा करें। सीएम ने और मोदी के बीच इस गारंटी की मुकाबले के बारे में सवाल उठाया और कहा कि केजरीवाल की गारंटी केजरीवाल ही पूरा करेगा। यह उनका दावा है कि वे अपने कामों से जनता के भरोसे को कई बार साबित कर चुके हैं।

क्या है CM केजरीवाल की दस गारंटियां? (Election 2024)

बिजली की गारंटी: प्रधानमंत्री ने देशवासियों को 24 घंटे बिजली और मुफ्त बिजली की गारंटी दी है। इस योजना के तहत, देश के गरीबों को हर महीने 200 यूनिट तक मुफ्त बिजली का लाभ मिलेगा। इसके लिए सरकार ने सवा लाख करोड़ रुपये का खर्च किया है।

शिक्षा की गारंटी: सरकारी स्कूलों को बेहतर बनाने के लिए प्रधानमंत्री ने 5 लाख करोड़ रुपये का निवेश किया है। इसके अंतर्गत, फ्री शिक्षा की सुविधा भी प्रदान की जाएगी।

स्वास्थ्य की गारंटी: देशवासियों को स्वस्थ रहने की गारंटी दी जाएगी। सरकार ने 5 लाख करोड़ रुपये का निवेश करके सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों को बेहतर बनाने का वादा किया है।

राष्ट्र सर्वोपरि: चीन के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के लिए प्रधानमंत्री ने देशवासियों को विश्वास दिलाया है। उन्होंने देश की आजादी और सुरक्षा के लिए आवश्यक सभी कदमों को उठाने का आश्वासन दिया है।

अग्निवीर योजना: सभी सैन्य भर्तियाँ पुरानी प्रक्रिया के तहत की जाएंगी। अग्निवीर योजना को बंद करने का निर्णय लिया गया है।

किसानों की गारंटी: सभी किसानों को उनकी मेहनत का उचित मूल्य मिलेगा। स्वामीनाथन आयोग के सुझाव के अनुसार, किसानों को फसलों पर एमएसपी निर्धारित किया जाएगा।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here