कोरोना से निपटने के लिए PM मोदी ने मीडिया संस्थानों से की बातचीत

0
638
PMO
File Picture

नई दिल्ली: देश में बढ़ते कोरोना के प्रकोप से लोगों को जागरुक करने में मीडिया संस्थानों की अहम भूमिका है। साथ ही सोशल मीडिया पर कोरोना को लेकर जो भ्रांतियां और अफवाहें फैलाई जा रही हैं, उन्हें दूर करने में भी मीडिया की अहम भूमिका है। ऐसे में मीडिया की भूमिका को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को मीडिया संस्थानों से वीडियो कॉन्फ्रेंस की।

वीडियो कॉन्फ्रेंस में पीएम मोदी ने कोरोना को लेकर जागरुकता फैलाने पर जोर दिया। पीएम मोदी ने कहा कि COVID-19 एक आजीवन चुनौती है और इसे नवीन समाधानों से निपटने की जरूरत है। पीएम ने कहा कि पत्रकारों, कैमरापर्सन और तकनीशियनों के अथक प्रयास राष्ट्र की महान सेवा है।

पीएम मोदी की ये बातचीत इसलिए भी खास है, क्योंकि इन दिनों देश की जनता में कोरोना को लेकर एक डर बैठा हुआ है। इस बीच सोशल मीडिया पर कुछ अफवाहें भी फैल रही हैं, जिन्हें दूर करने में मीडिया को अहम भूमिका निभानी है।fake-news_032320023827.jpg

बता दें कि इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 22 मार्च के दिन ‘जनता कर्फ्यू’ का आव्हान किया था, जिसको देशवासियों ने खुले दिल से स्वीकार किया। हालांकि, कुछ जगह से जनता कर्फ्यू का उल्लंघन की भी खबरें सामने आई, जहां लोग कर्फ्यू के दौरान मस्ती करते नजर आए। ऐसे में अब पीएम मोदी ने ट्वीट कर सख्ती दिखाते हुए सभी राज्य सरकारों से नियमों और निर्देशों का पालन करवाने के लिए कहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here