इन 5 राज्यों में हैं कुल कोरोना केसों के 70 फीसदी केस, जानें किस प्रदेश में कितने मामले

0
374
Covid19 in India
देश में एक बार फिर कोरोना के रिकॉर्ड 96,551 नए मामले दर्ज

जहां एक ओर देश में अनलॉक 1 शुरू हुआ है. वहीं दूसरी ओर कोरोना वायरस का संक्रमण लोगों में तेजी बढ़ रहा है. 8 जून की सुबह 8 बजे तक के आंकड़ों के हिसाब से देश में कुल कोरोना मरीजों की संख्या 2 लाख 56 हजार 611 पहुंच गई है. जबकि 7135 मरीजों की मौत हुई है. हैरान करने वाली बात ये है कि कोरोना के कुल केस में 70 फीसदी सिर्फ पांच राज्यों में (महाराष्ट्र, दिल्ली, गुजरात, राजस्थान, तमिलनाडु) है.

गैारतलब है कि कोरोना के शुरुआती दौर में 1 अप्रैल को जब भारत में कुल कोरोना केस की संख्या 1764 थी तब महाराष्ट्र में 302, दिल्ली में 120, गुजरात में 74, राजस्थान में 93 और तमिलनाडु में 124 केस थे. इसका मतलब है कि 1764 में से कुल 713 केस इन पांच राज्यों से थे, जो कुल केस का 40 फीसदी थे. इसके बाद 14 अप्रैल को पहला लॉकडाउन पूरा हो गया.

लॉकडाउन 1 के बाद केंद्र सरकार ने लॉकडाउन के दूसरे चरण का ऐलान कर दिया जो 3 मई तक चला. इस दौरान पूरा देश बंद रहा. न ट्रेन चली, न फ्लाइट, न बस, न टैक्सी. गांव और शहरों में लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराया गया. बावजूद इसके कोरोना मरीजों के आंकड़े ने तेजी से बढ़ते गए. 1 मई को देश में कोरोना के कुल मरीजों की संख्या 43932 पहुंच गई.

1 मई को पांच राज्यों में कोरोना केसों की स्थिति

महाराष्ट्र- 10498

दिल्ली- 3515

गुजरात- 4395

राजस्थान- 2584

तमिलनाडु- 2323

उक्त पांच राज्यों में 43932 में से 23315 केस पांच राज्यों से थे, जो कुल केस का करीब 53 फीसदी था. इसके बाद देश में लॉकडाउन जारी लेकिन कई मामलों में छूट दी गई. कुछ राज्य सरकारों को शराब की दुकानें खोलने की इजाजत मिल गई. इसके अलवा नियम- शर्तों के साथ ग्रीन व ऑरेंज जोन में आर्थिक गतिविधियां भी चालू रखने की छूट दी.

अब देश धीरे-धीरे खुलने लगा और कोरोना की रफ्तार और तेज होल गई है. 1 जून की सुबह 8 बजे तक देश में कुल कोरोना मरीजों की संख्या 2,82,354 पहुंच गई. अकेले महाराष्ट्र में 67 हजार से अधिक केस हो गए. जबकि दिल्ली में 19844, गुजरात में 16779, तमिलनाडु में 22333 और राजस्थान में 8831 मरीज हो गए. राजस्थान में अपेक्षाकृत कम केस हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here