15 अगस्त तक लॉन्च हो सकती है स्वदेशी कोरोना वैक्सीन

पत्र में लिखा गया है कि मानव परीक्षण की प्रक्रिया को 15 अगस्त से पहले पूरा किया जाए ताकि 15 अगस्त तक क्लीनिकल ट्रायल के परिणाम लॉन्च किए जा सकें।

0
478
Covaxin Trial Phase 2
देश में कोरोना वैक्सीन Covaxin का दूसरा ट्रायल होगा शुरू, पहले फेज को मिली मंजूरी

Delhi: भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) ने भारत बायोटेक (Bharat Biotech) को एक पत्र लिखकर COVID-19 वैक्सीन के मानव परीक्षण(Human Trial) को फास्क ट्रैक मोड पर चलाने के लिए कहा है। आईसीएमआर ने कहा है कि भारत बायोटेक द्वारा कोरोना वैक्सीन के इंसानों पर परीक्षण के परिणाम 15 अगस्त तक जारी किए जा सकते हैं। यानी देश की पहली स्वदेशी कोरोना वैक्सीन कोवाक्सिन’ (COVAXIN) 15 अगस्त तक लॉन्च हो सकती है।

Covid-19 : पिछले 24 घंटे में करीब 21 हजार नए मामले

भारत की अग्रणी वैक्सीन निर्माता कंपनी भारत बायोटेक ने कोरोना पर प्रभावी वैक्‍सीन ‘कोवाक्सिन’ (COVAXIN) बना ली है, आईसीएमआर डीजी बलराम भार्गव ने स्वदेशी कोरोना वैक्सीन की परीक्षण प्रक्रिया को जल्द पूरा करने के लिए भारत बायोटेक और मेडिकल कॉलेजों के प्रमुख जांचकर्ताओं को एक पत्र लिखा है। इस पत्र में लिखा गया है कि मानव परीक्षण की प्रक्रिया को 15 अगस्त से पहले पूरा किया जाए ताकि 15 अगस्त तक क्लीनिकल ट्रायल के परिणाम लॉन्च किए जा सकें। इसके बाद 15 अगस्त को देश में बनी पहली कोरोना वैक्सीन ‘कोवाक्सिन’ (COVAXIN) को लॉन्च किया जा सकता है।

इस पत्र में लिखा गया है कि यह भारत द्वारा विकसित किया जा रहा पहला स्वदेशी वैक्सीन है और सर्वोच्च प्राथमिकता वाली परियोजनाओं में से एक है, जिसे सरकार के सर्वोच्च स्तर पर मॉनिटर किया जा रहा है। आपको BBV152 COVID वैक्सीन के क्लीनिकल​टेस्ट स्थल के रूप में चुना गया है। COVID-19 महामारी और वैक्सीन लॉन्च करने की तात्कालिकता के कारण सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल के मद्देनजर आपको क्लिनिकल ट्रायल से संबंधित सभी अंतरालों को तेजी से ट्रैक करने की सलाह दी जाती है। आप सभी यह सुनिश्चित करें कि यह ट्रायल 7 जुलाई से शुरू हो जाएं।

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद यानि आईसीएमआर ने देश के पहले स्वदेशी कोविड-19 टीके के इंसानों पर ट्रायल के लिए 12 संस्थानों का चयन किया है। इनमें से एक संस्‍थान ओडिशा जबकि अन्य विशाखापत्तनम, रोहतक, नई दिल्ली, पटना, बेलगाम (कर्नाटक), नागपुर, गोरखपुर, कट्टानकुलतुर (तमिलनाडु), हैदराबाद, आर्य नगर, कानपुर (उत्तर प्रदेश) और गोवा में स्थित हैं।

योगी सरकार खरीदेगी 50 हजार एंटीजन टेस्ट किट

पिछले दिनों भारत की अग्रणी वैक्सीन निर्माता कंपनी भारत बायोटेक ने ऐलान किया था कि उसने कोरोना के खिलाफ प्रभावी वैक्सीन कोवाक्सिन बना ली है। इतना ही नहीं आईसीएमआर ने भारत बायोटेक को मानव परीक्षण के पहले और दूसरे चरण को मंजूरी भी दे दी है। भारत बायोटेक ने अपने अधिकारिक बयान में कहा कि उसने भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद यानी आइसीएमआर और राष्ट्रीय विषाणु विज्ञान संस्थान (एनआइवी) के साथ मिलकर इस वैक्सीन को तैयार किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here