लोकसभा में CAB पर जोरदार हंगामा- शाह बोले-कांग्रेस ने धर्म के आधार पर देश को बांटा

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने लोकसभा में नागरिकता संशोधन बिल पेश कर दिया है। इस बिल को पेश करते हुए उन्होंने कहा कि ये बिल अल्पसंख्यकों के खिलाफ नहीं है। इस बिल का विपक्ष की पार्टियां शुरू से ही विरोध कर रही हैं।

0
948

नई दिल्ली: केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने लोकसभा में नागरिकता संशोधन बिल पेश कर दिया है। इस बिल को पेश करते हुए उन्होंने कहा कि ये बिल अल्पसंख्यकों के खिलाफ नहीं है। इस बिल का विपक्ष की पार्टियां शुरू से ही विरोध कर रही हैं।

अधीर रंजन ने क्या कहा ?

कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने इस बिल का विरोध करते हुए कहा कि ये बिल अल्पसंख्यकों के खिलाफ है साथ ही ये संविधान के भी खिलाफ है। ये हमारे लोकतंत्र के ढांचे को अनदेखा कर रहे हैं। ये बिल आर्टिकल 5, 14 और 15 की मूल भावना के खिलाफ है।

अमित शाह क्या बोले ?

अधीर रंजन के इस बयान पर अमित शाह ने कहा ये बिल अल्पसंख्यकों के खिलाफ नहीं है। उन्होंने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि आप बिल को तोड़ मरोड़कर नहीं बता सकते। सात ही उन्होंने कहा कि मैं इस बिल पर सभी सवालों का जवाब दूंगा। बस वॉकआउट मत करना।
कांग्रेस ने धर्म के आधार पर देश को बांटा
अमित शाह ने बहस के दौरान कहा कि इस बिल को लाने की जरूरत कांग्रेस की वजह से पड़ी। कांग्रेस ने धर्म के आधार पर देश को बांटा। अगर कांग्रेस ऐसा न करती, तो इस कानून को लाने की जरूरत नहीं पड़ती।

ओवैसी ने किया विरोध

इस बिल का विरोध करते हुए AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि ये बिल मौलिक अधिकारों का उल्लंघन करता है। इस बिल सो सुप्रीम कोर्ट के आदेश का भी उल्लंघन हो रहा है। उन्होंने अपील करते हुए कहा कि इस देश को इस कानून से बचा लीजिए, गृहमंत्री को बचा लीजिए।
बता दें कि नागरिकता संशोधन बिल अगर देश में लागू हो जाता है तो पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से आने वाले गैर मुस्लिम शरणार्थियों को भारतीय नागरिकता देने का प्रावधान है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here