असम से लेकर बंगाल तक में CAB को लेकर हंगामा, स्टूडेंट यूनियनों ने बुलाया 12 घंटे का बंद

नागरिकता संशोधन विधेयक सोमवार को लोकसभा में पास हो गया। अब राज्यसभा में इस बिल को पेश किया जाना है। भले ही ये बिल लोकसभा में पास हो गया हो, लेकिन असम से बंगाल तक इस बिल का विरोध किया जा रहा है। अखिल असम छात्र संघ(AASU) और उत्तर पूर्व छात्र संगठन (NESO) ने मंगलवार को सुबह 5 बजे से 12 घंटे का बंद बुलाया है। इसी वजह से डिब्रूगढ़, गुवाहाटी और कॉटन यूनिवर्सिटी की परीक्षा को रद्द कर दिया गया है।

0
1049

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन विधेयक सोमवार को लोकसभा में पास हो गया। अब राज्यसभा में इस बिल को पेश किया जाना है। भले ही ये बिल लोकसभा में पास हो गया हो, लेकिन असम से बंगाल तक इस बिल का विरोध किया जा रहा है। अखिल असम छात्र संघ(AASU) और उत्तर पूर्व छात्र संगठन (NESO) ने मंगलवार को सुबह 5 बजे से 12 घंटे का बंद बुलाया है। इसी वजह से डिब्रूगढ़, गुवाहाटी और कॉटन यूनिवर्सिटी की परीक्षा को रद्द कर दिया गया है।

प्रदर्शन कर रहे छात्र संघ को कई राजनीतिक दलों का भी समर्थन मिला हुआ है। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि बाहर देशों से आने वाले लोगों से उनकी पहचान को खतरा है। असम के साथ ही त्रिपुरा में भी इस बिल को लेकर हंगामा बरपा हुआ है। कई आदिवासी समूहों ने सोमवार को इस बिल के विरोध में बंद बुलाया।

बता दें कि नागरिकता संशोधन बिल के पक्ष में सोमवार को लोकसभा में 311 वोट पड़े, जबकि विपक्ष में 80 वोट पड़े। बताया जा रहा है कि बुधवार को इस बिल को राज्यसभा में पेश किया जाना है। वैसे राज्यसभा में इस बिल को पास कराना मोदी सरकार के लिए आसान नहीं होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here