ओवैसी के सामने ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ का नारा लगाने वाली युवती के घर पर हमला

0
1009
पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाती युवती अमूल्या

बेंगलुरु। नागरिकता संसोधन कानून की रैली में पाकिस्तान जिंदाबाद’ का नारा लगाने वाली युवती अमूल्या के चिकमगलूर स्थित घर पर गुरुवार देर रात उपद्रवियों द्वारा हमला किया गया। अमूल्या के खिलाफ राजद्रोह का केस दर्ज किया गया है। इस मामले में पुलिस ने जांच करअमूल्या को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

आपको बता दें कि इससे पहले बेंगलुरु में श्री राम सेना और हिंदू जनजागृति समिति के सदस्यों ने विरोध प्रदर्शन किया था। अमूल्या की गिरफ्तारी पर कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि उसे जमानत नहीं दी जानी चाहिए, उनके पिता ने भी कहा है कि वह साथ नहीं देंगे। अब यह साबित हो गया कि उसका नक्सलियों से संपर्क था। उसको उचित सजा मिलनी चाहिए।


आपको बता दें कि अमूल्या की उम्र 20 साल है। वह बंगलूरू के एनएमकेआरवी महिला कॉलेज से बीए जर्नलिज्म की पढ़ाई कर रही है। वह बंगलूरू में एक रिकॉर्डिंग कंपनी में ट्रांसलेटर के तौर पर भी काम कर चुकी है। उसने सेंट नॉरबेट सीबीएसई स्कूल और मणिपाल के क्राइस्ट स्कूल से पढ़ाई की है। अमूल्या लियोना ‘अलनोरोन्हा’ के नाम से अलग फेसबुक पेज चलाती है।

अमूल्या फेसबुक के साथ-साथ सोशल मीडिया पर भी काफी एक्टिव रहती हैं। superprof.co.in पर अमूल्या का वेरीफाइड अकाउंट है, जिसपर उसने बताया है कि वो एक छात्र है। पढ़ाई के साथ उसे कविताएं लिखने का शौक है। इसके अलावा टीचिंग में भी उसकी काफी रूचि है।

। वहीं, इस विवाद पर कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि अमूल्या को जमानत नहीं दी जानी चाहिए। उनके पिता ने भी कहा है कि वह उसकी रक्षा नहीं करेंगे। अब यह साबित हो गया कि उसका नक्सलियों से संपर्क था। उचित सजा मिलनी चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here