Dussehra 2022 : 180 डिग्री घूमेगी 75 फीट के रावण की गर्दन, पलकें झपकाकर चलाएगा तलवार

0
149
Dussehra 2022
Dussehra 2022

Dussehra 2022 : बुराई पर अच्छाई की जीत के प्रतीक माने जाने वाले दशहरे की तैयारियां जोरो- शोरों से चल रही है। देशभर में प्रसिद्ध कोटा के राष्ट्रीय दशहरा मेला 2022 का उद्धघाटन हो चुका है। इस मेले में आमजन की हर सुविधा का ध्यान रखा जा रहा है। वहीं रावण, मेघनाथ, और कुम्भकरण के पुतलों को अंतिम रूप देने में जुटे हुए है। 15 कारिगर दिन-रात मेहनत कर रावण के पुतलों को मूर्त रूप दे रहे हैं।

180 डिग्री घूमेगी दशानंद की गर्दन

कोटा में बनने जा रहा रावण का इस बार अदभुत नजारा देखनें को मिलेगा। कोटा में रावण अपनी पलकों को झपकाएगा और साथ ही 180 डिग्री पर गर्दन भी घुमाएगा। ये ही नहीं इसके साथ ही रावण इस बार हंसता हुआ दिखाई देगा, और अट्टाहास (गर्जना) करेगा। कारीगरों ने बताया की रावण एक हाथ से तलवार भी चलाएगा।

Dussehra 2022
Dussehra 2022

75 फीट से अधिक का ‘रावण’

रावण बनाने वाले दिल्ली के कलाकार अनीस खान ने बताया कि वह कोटा में दूसरी बार रावण के पुतले को बना रहे हैं, देश में कोटा का राष्ट्रीय दशहरा मेला विख्यात है। इस बार यहां 75 फीट से अधिक का रावण और 50-50 फीट के कुम्भकरण व मेघनाथ होंगे। कोटा में रावण का पुतला प्रदेश में तीसरा सबसे ऊंचा बन रहा है। बता दे की रावण के साथ कुम्भकरण व मेघनाथ के पुतले भी लजाए जाते है।

दिल्ली से आएगा रावण का सिल्वर और गोल्डन ‘कवच’

कारीगरों ने बताया की रावण को आकर्षक लुक देने के लिए फ्लोसेंट कलर का प्रयोग किया जा रहा है, अबरी से रावण को सजाया जा रहा है। पैरों से लेकर मुकुट तक आकर्षित करेंगे। वही रावण के पुतले का कवच सिल्वर और गोल्डन कलर का होगा, जो दिल्ली से मंगवाया जाएगा।

5 अक्टूबर को विजयदशमी

इस साल दशहरा 5 अक्टूबर 2022 को मनाया जाएगा। पंचांग के अनुसार अश्विन शुक्ल दशमी की तिथि 4 अक्टूबर 2022 मंगलवार को दोपहर 2 बजकर 20 मिनट से शुरू हो होगी और अगले दिन यानी कि 5 अक्टूबर 2022 को दोपहर 12 बजे तक रहेगी। वही शुभ मुहूर्त 5 अक्टूबर को दोपहर 02 बजकर 13 मिनट से दोपहर 03 बजे तक रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here