थरूर ने पाकिस्तान में भारत को किया बदनाम, जानिए क्या कहा

कांग्रेस सांसद शशि थरुर अपने बयानों को लेकर हमेशा से चर्चा में रहते है। इस बार फिर से देश के खिलाफ बड़ा बयान दिया है।

0
95
Shashi Tharoor
कांग्रेस सांसद शशि थरुर अपने बयानों को लेकर हमेशा से चर्चा में रहते है। इस बार फिर से देश के खिलाफ बड़ा बयान दिया है।

New Delhi: कांग्रेस सांसद शशि थरूर (Shashi Tharoor) अपने बयानों को लेकर हमेशा से चर्चा में रहते है। इस बार फिर से देश के खिलाफ बड़ा बयान दिया है, जिसे लेकर विवाद खड़ा हो गया है। बता दें शशि थरुर ने पाकिस्तान के मंच पर कहा कि भारत में मुसलमानों (Shashi Tharoor) के साथ भेदभाव होता है। दरअसल लाहौर थिंक फेस्ट नाम के एक कार्यक्रम में शशि थरुर ऑनलाइन जुड़े थे और इसी कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान भेदभाव बढ़ा है। उन्होंने दिल्ली में हुई तब्लीगी जमात की बैठक का जिक्र करते हुए कहा कि इस घटना का इस्तेमाल भारत में मुसलमानों के खिलाफ भेदभाव को सही ठहराने के लिए किया गया था। 

सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का भारत में हुआ सफल परीक्षण

इतना कुछ कहने पर भी नहीं थमे शशि (Shashi Tharoor) और आगे कहा कि भारत में, ”एक दूसरे से डर का माहौल बनाया जाता है। मुझे नहीं पता कि आप लोगों में से कितनों ने वो व्हाट्सएप वीडियो देखे हैं जिनमें चीनी लोगों या उनके जैसे दिखने वाले लोगों के साथ पश्चिमी देशों जगह जगह जैसे सुपर मार्केट, रेस्टोरेंट में भेदभाव होता है सिर्फ इसलिए कि वो चीनी लोगों जैसे दिखते हैं।” आपको बता दें शशि थरुर पहले से ही राहुल गांधी, चीन और पाकिस्तान में हीरो बन चुके हैं। उन्होंने आर्टिकल 370 हटने के बाद बयान दिया था कि कश्मीर में 100 लोग मारे गए हैं। इसके बाद उनका जिक्र इमरान खान ने किया था और कहा कि बहुत बड़े नेता ने यह बात कही है। 

जन्मभूमि विवाद पर ओवैसी ने RSS पर साधा निशाना, जानिए क्या कहा

आखिर कौन है थरुर-

शशि थरूर (Shashi Tharoor) कांग्रेस के वरिष्ठ नेता, साहित्यकार और पूर्व राजनयिक हैं। वह केरल के तिरुवनंतपुरम से लगतार तीसरी बार सांसद चुने गए हैं। 2009 में पहली बार तिरुवनंतपुरम से लोकसभा पहुंचे थे। उन्होने डीयू के सेंट स्टीफेंस कॉलेज के बाद अमेरिका के टफ्ट यूनिवर्सिटी से पढ़ाई की है। थरुर साल 2006 में संयुक्त राष्ट्र के महासचिव का चुनाव लड़ चुके हैं। मई 2009 से अप्रैल 2010 तक यूपीए-2 में विदेश राज्यमंत्री रहे। अक्टूबर 2012 से 2014 तक केंद्रीय शिक्षा राज्यमंत्री रहे। 

 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here