मोदी पर निशाना साधते-साधते बोले राहुल- मुझे सिस्टम दो, फिर दिखाता हूं

0
68
Rahul Gandhi Targets Modi

Rahul Gandhi Targets Modi: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और वायनाड से मौजूदा सांसद राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने आज महंगाई, जीएसटी और बेरोजगारी के मुद्दे पर केंद्र सरकार को जमकर घेरा। हालांकि, बातों बातों में उन्होंने ऐसी बात कह दी है जिससे बीजेपी नाराज हो गई है। दरअसल, उन्होंने बीजेपी की चुनाव जीत की तुलना हिटलर की जीत से की है। जिसके बाद बीजेपी ने भी कांग्रेस को घेरते हुए याद दिलाया है कि उनकी दादी ने ही देश में आपातकाल लगाया था। राहुल ने कहा कि चूंकि हिटलर के पास देश की सारी संस्थाएं थी इसलिए वह चुनाव जीत जाता था।

ये क्या बोल गए राहुल

दरअसल, राहुल से प्रेस कॉन्फ्रेंस में सवाल पूछा गया था कि आप बेरोजगारी और महंगाई का मुद्दा उठा रहे हैं लेकिन बीजेपी कहती है कि लोकतंत्र में चुनाव सबसे अच्छा तरीका होता है, जो जनता तय करती है और वो चुनाव जीत रही है। इसपर राहुल ने कहा, ‘हां हिटलर भी चुनाव जीत जाता था। हिटलर चुनाव कैसे जीतता था। क्योंकि जर्मनी के सारे इंस्टीट्यूशन उसके हाथ में थे, इसलिए वो सभी चुनाव जीतता था। उसके पास SA थी। पैरामिलिटरी फोर्स थी। उसके पास पूरा का पूरा ढांचा था। मुझे पूरा ढांचा दे दो फिर मैं आपको दिखाऊंगा कि कैसे इलेक्शन जीता जा सकता है।’

सरकारी संस्थाओं को मोदी सरकार ने संघ प्रकोष्ठ बनाया

राहुल गांधी ने मोदी सरकार (Rahul Gandhi Targets Modi) पर महंगाई को लेकर अपने आक्रमक तेवर जारी रखे। उन्होंने कहा कि वह पीएम से नहीं डरते हैं। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने देश की सरकारी संस्थानों को भी भाजपा और संघ का ‘प्रकोष्ठ’ बना दिया है। ED जैसी देश की सरकारी संस्थान किसी कठपुतली की तरह विपक्ष को कुचलने के भाजपाई फरमान की ‘जी हुजूरी’ करने में लगी है। आज बीजेपी द्वारा अपने गुनाहों को छिपाने के लिए, विरोध में उठी हर आवाज को दबाने की कोशिश की जा रही है।

राहुल के आरोपों पर बीजेपी ने भी पलटवार किया। बीजेपी नेता रविशंकर प्रसाद ने राहुल के हिटलर के आरोपों पर जवाब देते हुए कहा कि राहुल गांधी की दादी ने देश में आपातकाल लगाया था। आपातकाल के दौरान बड़े-बड़े पत्रकारों को जेल भेजा गया था। राहुल गांधी की दादी जी ने कमिटेड जूडिशरी की बात की थी। आपको कुछ याद है? आप हमें लोकतंत्र की नसीहत देते हैं। क्या आपकी पार्टी में लोकतंत्र है?

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here