तेजस्वी ने नीतीश पर जमकर चलाया शब्दबाण कहा- थक गये हैं नीतीश कुमार

बिहार में जैसे-जैसे चुनाव की तारीखें नजदीक आ रही है, वैसे- वैसे नेताओं का अपने विरोधियों पर निशाना तेज हो गया है।

0
230
Tejashwi Yadav
तेजस्वी यादव ने कहा नीतीश कुमार ने चिराग के साथ किया अन्याय, जानें क्यों

Bihar: बिहार में जैसे-जैसे चुनाव की तारीखें नजदीक आ रही है, वैसे- वैसे राजनीतिक दलों के नेताओं का अपने विरोधियों पर शब्द बाण चलाने का सिलसिला तेज (Bihar Election 2020) हो गया है। राजद के नेता तेजस्वी यादव ने शुक्रवार को एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए एनडीए सरकार (Bihar Election 2020) पर जमकर शब्द बाण चलाएं।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर तेजस्वी यादव (Bihar Election 2020) ने हमला बोलते हुए कहा कि “वे थक गये हैं, अब उनसे बिहार संभल नहीं रहा है, न तो युवाओं को रोजगार दे पाये और न ही कोरोना में लौटे प्रवासियों के लिए कुछ कर सके” बता दें कि तेजस्वी शुक्रवार को भोजपुर, भभुआ और भागलपुर के कहलगांव में चुनावी सभाओं को संबोधित करते हुए ये बात कही।

वोटकटवा कहने पर भड़के लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान, कही ये बात

तेजस्वी ने उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी को आड़े हाथों लिया, और तंज कसते हुए कहा कि ” वे कहते हैं कि शौक से कुछ लोग बाहर जाते हैं। जबकि हकीकत है कि लोग बीमारी का इलाज और रोजगार पाने के लिए बिहार जाते हैं” तेजस्वी यहीं नहीं रूके उन्होंने सुशील कुमार मोदी पर हमला बोलते हुए युवाओं से कहा कि वे राजद की सरकार बनवाएं। उन्होंने युवाओं से कहा कि राजद की सरकार बनते ही पहली कैबिनेट की बैठक में बिहार के युवाओं को दस लाख नौकरी देंगे, यहीं नहीं उन्होंने कहा कि नौकरी के लिए फार्म भरने में युवाओं का एक रुपया भी नहीं लगेगा। नौकरी के लिए एक शहर से दूसरे शहर जाने में युवकों का एक पैसा तक खर्च नहीं लगेगा।

तेजस्वी ने नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए कहा कि “सिपाही बहाली  (Bihar Vidhansabha Chunav) में केवल नालंदा वाले को भरते हैं, इसलिए अपराध बढ़ रहा है। स्थानीय युवाओं का हौसला बढ़ाते हुए कहा कि बक्सर-आरा के लंबे नौजवान भर्ती रहते तो पांच बदमाशों को कांख में ही जात लेते। इसलिए खाली पेट बेरोजगार युवा वोट से चोट कर नीतीश सरकार को उखाड़ फेंके।”

तेजस्वी ने जारी किया घोषणा पत्र, चुनाव से पहले वादों की लगाई झड़ी

तेजस्वी ने कहा कि 15 साल में नीतीश चाचा बिहार में एक भी कल-कारखाना नहीं खोल सके तो पांच साल में क्या करेंगे? तेजस्वी ने शिक्षकों के बड़े वोट बैंक (Bihar Vidhansabha Chunav) को भुनाने की जबरदस्त कोशिश की और उन्होंन कहा कि उनकी यदि राज्य में सरकार बनती है, तो नियोजित शिक्षकों को समान काम के लिए समान वेतन दिया जाएगा। यहीं नहीं तेजस्वी ने वृद्धा पेंशन को बढ़ाकर एक हजार रुपये करने का वादा किया। उन्होंने जनसभा को संबोधित करते हुए नीतीश पर तंज कसते हुए कहा कि कोरोना काल में मुख्यमंत्री ने राज्य के लोगों के साथ मजाक करने का आरोप लगाया।

तेजस्वी ने बिहार को विशेष राज्य का दर्जा नहीं दिलाने और न ही विशेष पैकेज बिहार (Bihar Vidhansabha Chunav) को न मिलने की बात जनसभा में की। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी ने अपने पिता लालू प्रसाद के कार्यकाल में बिहार में हुए विकास कार्यों को लोगों के सामने बताया। आपकों बता दें कि तेजस्वी के साथ उनके बड़े भाई तेज प्रताप भी चुनावी सभा में मौजूद थे और उन्होंने भी सभा को संबोधित किया।


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here