बलिया में 26 फर्जी शिक्षक बर्खास्त, गलत सर्टिफिकेट लगाकर वर्षों से कर रहे थे नौकरी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की भ्रष्टाचार के खिलाफ नो टोलरेंस पॉलिसी जारी है। शुक्रवार को बदायूं में भ्रष्टाचार के चलते 13 अधिकारियों को निलंबित किया गया था। इसके बाद अब बलिया में 26 फर्जी शिक्षकों को बर्खास्त किया गया है। ये फर्जी शिक्षक गलत सर्टिफिकेट लगाकर कई वर्षों से नौकरी कर रहे थे।

0
166

बलिया। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की भ्रष्टाचार के खिलाफ नो टोलरेंस पॉलिसी जारी है। शुक्रवार को बदायूं में भ्रष्टाचार के चलते 13 अधिकारियों को निलंबित किया गया था। इसके बाद अब बलिया में 26 फर्जी शिक्षकों को बर्खास्त किया गया है। ये फर्जी शिक्षक गलत सर्टिफिकेट लगाकर कई वर्षों से नौकरी कर रहे थे।

बता दें कि इस जांच में बर्खास्त शिक्षक व सहायक अध्यापकों में कुछ की स्नातक की मार्कशीट में गड़बड़ी पाई गई है, तो किसी की इंटरमीडिएट की मार्कशीट सही नहीं है। ये सभी 26 अध्यापक- सहायक अध्यापक इन फर्जी कागजातों के दम पर बीते काफी समय से नौकरी कर रहे थे। फिलहाल, इन सभी के खिलाफ कार्रवाई के आदेश दिए गए हैं।

बलिया जिलाधिकारी श्रीहरि प्रसाद शाही ने बेसिक शिक्षा अधिकारी व पुलिस अधिकारियों को इन फर्जी शिक्षकों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही इन सभी बर्खास्त शिक्षकों से पूरी रिकवरी करने के भी आदेश दिए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here