उन्नाव केस: पुलिस प्रशासन के आश्वासन के बाद माना परिवार, दफनाने के लिए लेकर गए शव

उन्नाव गैंगरेप पीड़िता का परिवार मृतका के अंतिम संस्कार के लिए मान गया है। अब मृतका का अंतिम संस्कार उसी के गांव में किया जाएगा। पुलिस प्रशासन के आश्वासन के बाद ही पीड़ित परिवार मृतका के अंतिम संस्कार के लिए माना।

0
172

लखनऊ: उन्नाव गैंगरेप पीड़िता का परिवार मृतका के अंतिम संस्कार के लिए मान गया है। अब मृतका का अंतिम संस्कार उसी के गांव में किया जाएगा। पुलिस प्रशासन के आश्वासन के बाद ही पीड़ित परिवार मृतका के अंतिम संस्कार के लिए माना।

बता दें कि उन्नाव गैंगरेप पीड़िता ने शनिवार को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में दम तोड़ दिया। पीड़िता के मरने के बाद परिवारवाले मृतका का अंतिम संस्कार करने को राजी नहीं थे। पीड़िता का परिवार मुख्यमंत्री योगी से मिलने की जिद पर अड़ा हुआ था। पीड़िता की बहन की मांग थी कि सीएम योगी उनसे मिले और उसे सरकारी नौकरी देने और आरोपियों को जल्द से जल्द सजा दिए जाने का आश्वासन दें, उसके बाद ही वह मृतका का अंतिम संस्कार करेंगे।

पीड़ित परिवार की इस मांग पर एडीजी एसके भगत और कमिश्नर गैंगरेप पीड़िता के घर पहुंचे। पुलिस प्रशासन के बड़े अधिकारियों ने परिवार से बात की। पीड़िता परिवार को प्रधानमंत्री आवास आवास योजना फंड से 25 लाख देने और फास्ट ट्रैक कोर्ट में केस चलाने का आश्वासन दिया गया। इसके बाद परिवार मृतका के अंतिम संस्कार के लिए राजी हुआ। मृतका के शव को उसी के गांव में दफनाया जाएगा।

मृतका के भाई ने बताया क्यों दफनाया जाएगा शव ?
मृतका के भाई ने कहा कि उनके समुदाय में कुंआरी लड़कियों के शव को जलाया नहीं जाता है बल्कि दफनाया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here