प्रवासी मजदूरों की मदद के लिए आगे आए सोनू सूद, बोले- ‘दो दिन में अपने घर का पानी पियोगे’

0
134
Sonu Sood

कोरोना को लेकर देश भर में लॉकडाउन लागू है. ऐसे में शहरों में फंसे लोगों का धैर्य टूटने लगा है. वह अपने घरों के लिए पैदल चल रहे हैं ये तस्वीरें काफी दुख पहुंचाने वाली है. हर रोज कई मामले सामने आते हैं जिनमें लोग हजारों किलोमीटर दूर शहरों से अपने अपने घरों के लिए पैदल चल रहे हैं. प्रवासी मजदूरों के अनुसार, शासन-प्रशासन द्वारा सही व्यवस्था नहीं कर पाने की वजह से वह पैदल चल रहे हैं.

हालांकि, मदूरों के लिए कुछ समाजसेवी लोग आगे आ रहे है. इस कड़ी में अब बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद खुलकर सामने आए हैं. उन्होंने अपने ट्वीटर हैडल से ट्वीट करते हुए प्रवासी लोगों को उनके घर तक पहुंचाने की बात कही है. सोनू सूद ने लिखा, भई चक्कर लगाना बंद करो और Relax करो। दो दिन में बिहार में अपने घर का पानी पियोगे। details भेजो. सोनू के इस ट्वीट के बाद लोग उनसे संपर्क कर रहे हैं.

बता दें कि सोनू सूद ने मूल रूप से बिहार के रहने वाले एक शख्स के ट्वीट के जवाब में अपना मदद करने का वादा करने वाला ट्वीट किया. दरअसल , मूल रूप से बिहार के रहने वाले एक व्यक्त‍ि ने ट्वीट कर बताया कि वे लोग पास के लिए पुलिस चौकी के कई चक्कर लगा चुके हैं. अभी वे धारावी (मुंबई) में रहते हैं. लेकिन मदद के कोई आसार नजर नहीं आ रहे हैं.

शख्स के ट्वीट पर सोनू ने उसे अपना डिटेल भेजने के लिए कहा है. सोनू ने लिखा- ‘भाई चक्कर लगाना बंद करो और रिलैक्स करो. दो दिन में बिहार में अपने घर का पानी पियोगे, डिटेल्स भेजो’. एक और व्यक्त‍ि ने ट्वीट कर सोनू से मदद मांगी. उसने लिखा- सर प्लीज ईस्ट यूपी में कहीं भी भेज दो सर, वहां से पैदल जाएंगे अपने गांव सर.’ इसपर भी सोनू की ने दिल को छूने वाला ट्वीटस किया, सोनू ने लिखा- ‘पैदल क्यों जाओगे दोस्त? नंबर भेजो’.सोनू ने इससे पहले भी बिहार के कई मजदूरों को उनके घर पहुंचाया है.

जानकारी के अनुसार, ट्विटर के माध्यम से भी जो लोग उनसे संपर्क कर रहे हैं, सोनू हर किसी की मदद कर रहे हैं. उन्होंने मुंबई के जुहू स्थ‍ित होटल के दरवाजे भी मेडिकल वर्कर्स के लिए खोले. इसके पहले जब देश में लॉकडाउन लगा तो उन्होंने अपने पिता शक्ति सागर सूद के नाम पर एक स्कीम लॉन्च की थी, जिसके तहत वो रोज 45 हजार लोगों को हर रोज खाना खिला रहे थे. सोनू अनेक तरीकों से लोगों की मदद कर रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here