Paytm KYC के नाम पर ऐसे लग रहा लाखों का चूना, कंपनी ने बताया बचने का तरीका

पिछले काफी समय से पेटीएम केवाईसी के नाम पर लगातार धोखाधड़ी की खबरें सामने आ रही हैं। लगातार हो रही ठगी को लेकर अब पेटीएम ने एक एडवाइजरी जारी की है, जिसमें यूजर्स को धोखाधड़ी से बचने के लिए सतर्क किया गया है।

0
137

नई दिल्ली: पिछले काफी समय से पेटीएम केवाईसी के नाम पर लगातार धोखाधड़ी की खबरें सामने आ रही हैं। लगातार हो रही ठगी को लेकर अब पेटीएम ने एक एडवाइजरी जारी की है, जिसमें यूजर्स को धोखाधड़ी से बचने के लिए सतर्क किया गया है।

पेटीएम की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि अगर आपको किसी अंजान नंबर से Paytm KYC करवाने को लेकर कोई कॉल या मैसेज आए और आपको AnyDesk, TeamViewer, QuickSupport इत्यादि App इनस्टॉल करने के लिए कहा जाए तो आप इस तरह की बातों पर विश्वास न करें, अन्यथा आपका अकाउंट खाली हो सकता है।

Anydesk remote app

अपने यूजर्स को धोखाधड़ी से बचाने के लिए पेटीएम की ओर से कहा गया है कि ‘हम पेटीएम मिनिमम KYC के लिए कभी कोई एसएमएस या ईमेल नहीं भेजते और न ही पेटीएम का कोई कर्मचारी यूजर से किसी भी तरह का पिन, पासवर्ड, ओटीपी, डेबिट/क्रेडिट कार्ड सीवीवी, पासवर्ड रीसेट लिंक, पिन या बैंक डीटेल्स नहीं मांगता है। जब पेटीएम एजेंट KYC कंप्लीट करने के लिए यूजर से मिलता है तो केवल यूजर के आईडी कार्ड चेक करता है।’ ऐसे में पर्सनल डीटेल्स किसी के साथ शेयर करने की जरूरत नहीं है।

ऐसे होती है धोखाधड़ी
दरअसल, ‘साइबर ठग’ पेटीएम केवाईसी के नाम पर आपको मैसेज भेजते हैं। मैसेज में एक लिंक दिया गया होता है और इस लिंक पर क्लिक करने के लिए बोला जाता है, साथ ही AnyDesk, TeamViewer, QuickSupport इत्यादि App डाउनलोड करने के लिए कहा जाता है। अगर आप इस तरह के फर्जी मैसेज या कॉस के झांसे में आकर इस तरह की किसी भी एप को डाउनलोड करते हैं तो साइबर लुटेरे आपसे रिमोट ऐक्सेस कोड लेकर आपके कंप्यूटर या मोबाइल फोन की स्क्रीन देख सकता है। ऐसे में जब भी आप ऑनलाइन ट्रांजेक्शन करते हैं तो फ्रॉड करने वाला आपकी सारी डिटेल्स जैसे पिन, अकाउंट नंबर और पासवर्ड जैसी गोपनीय जानकारी हासिल कर लेता है और इस तरह से वह आसानी से आपके अकाउंट से पैसों का हेर-फेर कर सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here