BJP पर भड़की शिवसेना, राष्ट्रपति शासन लगाने को बताया जनादेश का अपमान

महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना के बीच सत्ता को लेकर घमासान मचा हुआ है। इसी बीच शिवसेना ने अपनी सहयोगी पार्टी बीजेपी पर तीखे हमले किए हैं। शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में महाराष्ट्र सरकार के वित्त मंत्री सुधीर मुनगंटीवार के राष्ट्रपति वाले बयान को लेकर कई तीखे सवाल किए हैं।

0
157

मुंबई: महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना के बीच सत्ता को लेकर घमासान मचा हुआ है। इसी बीच शिवसेना ने अपनी सहयोगी पार्टी बीजेपी पर तीखे हमले किए हैं। शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में महाराष्ट्र सरकार के वित्त मंत्री सुधीर मुनगंटीवार के राष्ट्रपति वाले बयान को लेकर कई तीखे सवाल किए हैं।

सामना में शिवसेना ने लिखा, ‘राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने की सुधीर मुनगंटीवार द्वारा दी गई धमकी लोकतंत्र विरोधी और असंवैधानिक है। ये महाराष्ट्र और विधानसभा चुनाव में मिले जनादेश का अपमान है। ‘संविधान’ नामक घर में रहनेवाले रामदास आठवले डॉ. आंबेडकर के संविधान का अपमान सहन न करें।’

ये भी पढ़ें- शिवसेना का चौंकाने वाला फैसला, इस नेता को चुना गया विधायक दल का नेता

इतना ही सामना में आगे लिखा गया है, ‘ राष्ट्रपति शासन लगाने की धमकी देनेवाले पहले सरकार बनाने का दावा तो पेश करें! फिर आगे देखेंगे। राष्ट्रपति संविधान की सर्वोच्च संस्था हैं। वे व्यक्ति नहीं बल्कि देश हैं। देश किसी की जेब में नहीं है।’

वहीं, शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि अगर किसी राज्य में सरकार बनाने में देरी हो रही है, और सत्तारूढ़ पार्टी के एक मंत्री का कहना है कि महाराष्ट्र में सरकार नहीं बनी तो राष्ट्रपति शासन लागू हो जाएगा, क्या यह उन विधायकों के लिए धमकी है जो चुनकर आए हैं?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here