VIRAL VIDEO: अल्मोड़ा का प्रदीप सोशल मीडिया पर छाया, पूरा देश कर रहा सलाम, करोड़ों लोगों के लिए बना प्रेरणा स्रोत

0
195
PRADEEP MEHRA VEDIO VIRAL

VIRAL VIDEO: किसी ने सही कहा हैं की ज़िद अगर जीतने की हो, तो हारना ना नामुमकिन हो जाता हैं। उत्तराखंड के अलमोड़ा जिले का रहने वाला और नोएडा के फास्टफूड रेस्टोरेंट में काम करने वाला 19 साल के प्रदीप मेहरा ने इस कहावत को सच करते हुए दिखाया हैं। प्रदीप मेहरा ( Pradeep Mehra) आज सोशल मीडिया की सनसनी बना हुआ है और करोड़ों लोगों के लिए प्रेरणा स्रोत बना हैं. ट्विटर पर वायरल करीब 2 मिनट 20 सेकेंड के वायरल वीडियो (Viral Video) देखकर पूरा देश इस 19 साल के नौजवान को देखकर सलाम कर रहा है. इतना ही नहीं, उसके जज्बे को जानकर देश की कई दिग्गज हस्तियां भी उसका हौसला बढ़ रहे हैं. जब आप भी इस वीडियो को देखेंगे, तो आप भी इस नौजवान के जज्बे को सलाम किए बिना नहीं रह पाएंगे.

फिल्म निर्माता विनोद कापड़ी (Vinod Kapri) ने रविवार की शाम करीब 6 बजकर 53 मिनट पर 2 मिनट 20 सेकंड का एक वीडियो ट्वीट किया है. अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा है, ‘नोएडा की सड़क पर कल रात 12 बजे मुझे ये लड़का कंधे पर बैग टांगें बहुत तेज़ दौड़ता नज़र आया. मैंने सोचा – किसी परेशानी में होगा, लिफ़्ट देनी चाहिए. बार-बार लिफ्ट का ऑफर किया, पर इसने मना कर दिया. वजह सुनेंगे तो आपको इस बच्चे से प्यार हो जाएगा.’ इस ट्वीट की उन्होंने ‘खरा सोना’ हेडिंग भी दी है.

चलिए जानें क्या है पूरा मामला

फिल्म निर्माता विनोद कापड़ी को उस लड़के ने अपना नाम प्रदीप मेहरा बताया और वह उत्तराखंड के अल्मोड़ा जिले का रहने वाला है. उसने बताया कि उसकी उम्र 19 साल है और वह नोएडा सेक्टर-16 में एक फास्टफूड रेस्टोरेंट में काम करता है. वह रात के 11 बजे तक काम करता है. वह रोजाना फास्ट फूड रेस्टोरेंट से लेकर करीब 10 किलोमीटर की दूरी पर स्थित बरोला में अपने कमरे तक का सफर दौड़ लगाकर पूरा करता है.

रोजाना 10 किलोमीटर दौड़ता है प्रदीप

फिल्म निर्माता विनोद कापड़ी को उस लड़के ने अपना नाम प्रदीप मेहरा बताया और वह उत्तराखंड के अल्मोड़ा जिले का रहने वाला है. उसने बताया कि उसकी उम्र 19 साल है और वह नोएडा सेक्टर-16 में एक फास्टफूड रेस्टोरेंट में काम करता है. वह रात के 11 बजे तक काम करता है. वह रोजाना फास्ट फूड रेस्टोरेंट से लेकर करीब 10 किलोमीटर की दूरी पर स्थित बरोला में अपने कमरे तक का सफर दौड़ लगाकर पूरा करता है.

सेना में भर्ती होने का सपना – प्रदीप

विनोद कापड़ी को लड़के ने बताया कि वह सेना में भर्ती होना चाहता है. सुबह के वक्त उसे तैयारी करने का मौका नहीं मिलता है. इसीलिए वह रात में दौड़ लगाता है. बताते चलें कि पेशे से पत्रकार और फिल्म निर्माता विनोद कापड़ी खुद उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जिले के रहने वाले हैं. उनके पिता भी सेना में रह चुके हैं. प्रदीप की भावनाओं को जानकर वे उससे कमाऊंनी भाषा में बात करने लगते हैं. उसके घर-परिवार के बारे में पूरी जानकारी हासिल करते हैं.

तुम तो वायरल होने वाले हो

Pradeep mehra

प्रदीप ने कापड़ी को बताया कि उसकी मां की तबीयत हमेशा खराब रहती है. वे अस्पताल में भर्ती हैं और उनका इलाज चल रहा है. नोएडा में वह अपने बड़े भाई के साथ रहता है. विनोद कापड़ी की गाड़ी के साथ-साथ दौड़ लगाने वाले लड़के से उन्होंने कहा, ‘तुम तो वायरल होने वाले हो.’ उसने कहा, ‘होने दो. दौड़ लगा रहा हूं, कोई गलत काम थोड़े कर रहा हूं.’

भाई भूखा रह जाएगा

इतना ही नहीं, उस लड़के को विनोद कापड़ी ने खाना ऑफर किया तो उसने उसे लेने से भी इनकार कर दिया. उसने कहा, ‘उसका भाई प्राइवेट नौकरी में नाइट ड्यूटी करता है. दौड़ लगाकर घर पहुंचेगा तो खाना बना लेगा. उसे दोनों लोगों का खाना बनाना है. वह खा लेगा तो उसका भाई भूखा ही रह जाएगा.’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here