सरोजिनी नगर मार्केट में ऑड-ईवन लागू, HC की फटकार के बाद राज्य सरकार ने लिया एक्शन

0
59
Sarojini Nagar Market Odd-Even
हाई कोर्ट की फटकार के बाद सरोजिनी नगर मार्केट में 25 और 26 दिसंबर के दिन ऑड-ईवन नियमों का पालन करने का आदेश दिया गया है।

कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए दिल्ली सरकार अलर्ट जोन में आ गई हैं। खास बात ये है कि हाई कोर्ट की फटकार के बाद सरोजिनी नगर मार्केट में 25 और 26 दिसंबर के दिन ऑड-ईवन (Sarojini Nagar Market Odd-Even) नियमों का पालन करने का आदेश दिया गया है। ऑड-ईवन के तहत दुकानों, रेहड़ी-पटरी वालों को संचालन करना होगा। यानी सरोजनी नगर मार्केट 25 और 26 दिसंबर के वीकेंड पर ऑड ईवन के हिसाब से कार्य करेगा।

न्यू ईयर और क्रिसमस की वजह से सरोजनी नगर मार्केट में भीड़ देखने को मिल रही थी

दरअसल, आज क्रिसमस (Christmas) है और आने वाले दिनों में न्यू ईयर (New Year) का जश्न मनाया जाएगा, इसी वजह से काफी दिनों से सरोजनी नगर मार्केट में भीड़ देखने को मिल रही थी। जिसके बाद प्रशासन और ट्रेडर्स के बीच हुई बैठक में बड़ा फैसला लिया गया। इन सब की बीच हाई कोर्ट ने भी सरकार को फटकार लगा दी, तब जाकर दिल्ली सरकार ने सरोजिनी नगर मार्केट के लिए नई योजना बनाई है।

कोर्ट ने क्यों दिखाई थी सख्ती ?

अदालत (High Court) ने कहा कि कोरोना वायरस (Coronavirus) है या नहीं, लोगों को सतर्क रहना होगा। साथ ही कहा कि सरोजिनी नगर बाजार में कोविड फैलता है या भगदड़ से कोई मौत होती है तो नयी दिल्ली नगरपालिका परिषद और दिल्ली प्रशासन जिम्मेदार होगा। कोर्ट ने NDMC के अधिकारियों के खिलाफ अवैध विक्रेताओं और उनके सामान समेत बाजार से अतिक्रमण हटाने को कहा है। इसके लिए अवमानना ​​नोटिस जारी किया था।

नए साल के लिए हाई कोर्ट की अपील

हाई कोर्ट ने लोगों से अपील की थी कि कोरोना के केस बढ़ते जा रहे है। इसे देखते हुए क्रिसमस (Christmas) और नए साल (New Year) पर संयम दिखाएं और बड़ी सभाएं आयोजित करने से बचें। न्यायमूर्ति विपिन सांघी और न्यायमूर्ति जसमीत सिंह की खंडपीठ उस याचिका पर सुनवाई कर रही है, जिसमें धार्मिक स्थलों पर धार्मिक सभाओं के आयोजन पर दिल्ली सरकार की रोक के आदेश को चुनौती दी है। 23 दिसंबर को ये साफ कर दिया गया था कि धार्मिक स्थल प्रार्थना के लिए खुले रहेंगे। हालांकि, यहां पर आयोजन नहीं किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here