पनामा पेपर लीक मामले के बीच संसद में जया बच्चन हुईं आगबबूला! कहा- मोदी सरकार के बुरे दिन जल्द आने वाले है

0
67
Jaya Bachchan
ऐश्वर्या राय बच्चन से पनामा पेपर लीक मामले में पूछताछ के बीच आज संसद में सपा सासंद जया बच्चन आगबबूला हो गईं...

ऐश्वर्या राय बच्चन (Aishwarya Rai Bachchan) से पनामा पेपर लीक मामले में पूछताछ के बीच आज संसद में सपा सासंद जया बच्चन (Jaya Bachchan) आगबबूला हो गईं, उन्होंने मोदी सरकार को बुरे दिन आने का शाप भी दे दिया। जया बच्चन ने कहा कि सरकार के बुरे दिन जल्द आने वाले है। आज राज्यसभा में नारकोटिक ड्रग्स और साइकोट्रॉपिक पदार्थ विधेयक पर बातचीत होनी थी। इस दौरान दिग्विजय सिंह ने सरकार पर कई गंभीर आरोप लगाए, इसके बाद सपा नेता जया बच्चन ने सरकार पर तीखा हमला किया। जब इस मुद्दे पर चर्चा के लिए जया बच्चन को बुलाया गया तो उन्होंने आते ही कहा ‘मैं आपको धन्यवाद नहीं देना चाहती। साथ ही कहा कि मैं वो दिन भूल नहीं पाती जब आप चिल्लाकर वेल में जाते थे।

जया बच्चन ने सदन की कार्यवाही को “भयानक” कहा

आपको बता दें सदन की कार्यवाही को “भयानक” भी कहा क्योंकि ये 3-4 घंटे के लिए लिपिकीय त्रुटियों पर चर्चा कर रहा था। लेकिन निलंबित सांसदों के मुद्दे पर चर्चा करने के लिए तैयार नहीं था। इस पर कहा गया कि संसद निष्पक्ष नहीं है। सदस्य सांसदों के निलंबन के विषय पर बहस को वापस लाने की कोशिश करते रहे। लेकिन इस पर बातचीत नहीं हुई।

लोकसभा में पास हुआ वोटर कार्ड के आधार से जोड़ने वाला विधेयक को लेकर जया बच्चन सरकार पर भी जमकर बरसीं। उन्होंने कहा कि अगर आपका रवैया इसी तरह चलता रहा, तो सरकार के बुरे दिन बहुत जल्द आ रहे हैं। जब सपा सांसद को फिर चुप कराने का प्रयास किया गया तो उन्होंने कहा कि आप हमें मत बोलने दीजिए। आप कहें तो हम भी बाकी सदस्यों की तरह सदन से बाहर चले जाएं। या फिर आप लोग हमारा गला घोंट दीजिए।

बंद कर दो सत्ता का अहंकार- सुशील गुप्ता

आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) के सुशील गुप्ता ने सरकार पर अजय मिश्रा के मंत्री बने रहने पर सवाल उठाया। उन्होंने पूछा कि क्या सरकार “सत्ता के अहंकार को रोकने” के लिए कोई कानून ला रही है। पंजाब में युवा ड्रग्स ले रहे हैं। उनकी सुरक्षा के लिए सरकार ने क्या किया है? लखीमपुर खीरी में एक मंत्री के बेटे ने किसानों को कुचल दिया। इस मुद्दे पर सरकार क्यों चुप है? ये सत्ता का अहंकार है। सरकार 12 सांसदों का निलंबन खत्म करने के लिए माफी मांग रही है। ये भी सत्ता का अहंकार है।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here