उत्तराखंड में कुदरत का कहर, हादसे का जायजा लेने पहुंचे CM रावत

रविवार सुबह चमोली में ग्लेशियर टूटने से भारी तबाही हुई है। मामले की निगरानी गृहमंत्री खुद कर रहे हैं।

0
301
U'khand flood live updates
रविवार सुबह चमोली में ग्लेशियर टूटने से भारी तबाही हुई है। मामले की निगरानी गृहमंत्री खुद कर रहे हैं।

Uttarakhand: देवभूमि उत्तराखंड (Uttarakhand) में रविवार का दिन कॉल बनकर आया। रविवार सुबह चमोली में ग्लेशियर टूटने से भारी तबाही हुई है। मामले की निगरानी गृहमंत्री खुद रहे हैं। वहीं हालात का जायजा लेने के लिए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत (Trivendra Singh Rawat) मौके पर पंहुच गए हैं।

उत्तराखंड के चमोली में ग्लेशियर टूटने से तबाही का मंजर, कई लोगों के बहने की खबर

चमोली (Chamoli) जिले के रैणी गांव के पास ग्लेशियर टूटने से बड़ा हादसा हुआ है। हादसे का जायजा लेने के लिए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत घटनास्थल पर पहुंचे हैं। सीएम रावत (Trivendra Singh Rawat) घटना से जुड़ी तमाम जानकारी अधिकारियों से ले रहे हैं। ITBP और सेना के अधिकारी हादसे की जानकारी दे रहे हैं।

अधिकारियों से हादसे की जानकारी लेते सीएम रावत…

कैसे मची तबाही-

उत्तराखंड में एक बार फिर कुदरत का कहर सामने आया है। रविवार की सुबह चमोली जिले के रैणी गांव के नजदीक ग्लेशियर टूट गया। इससे भारी तबाही हुई है। ताजा जानकारी के मुताबिक अभी तक 9 लोगों के शव बरामद किए जा चुके हैं। लगभग 150 लोग लापता बताए जा रहे हैं। इस हादसे में ऋषि गंगा प्रोजेक्ट को भारी नुकसान हुआ है। बॉर्डर रोड़ आर्गनाइजेशन (BRO) के दो पुल भी बह गए हैं।

हार्न बजते ही खत्म हुआ चक्का जाम, किसानों की सरकार को चेतावनी

तपोवन बैराज ध्वस्त-

ग्लेशियर (Glacier) टूटने के बाद कई बांधों को भी नुकसान पंहुचा है। जिससे नदियों में बाढ़ आ गई है। तपोवन बैराज पूरी तरह से ध्वस्त हो गया है। श्रीनगर में प्रशासन ने नदी किनारे बस्तियों में रह रहे लोगों से सुरक्षित स्थानों में जाने की अपील की है। वहीं, नदी में काम कर रहे मजदूरों को भी हटाया जा रहा है। बता दें कि श्रीनगर के बांध को भी खाली करा दिया गया है।

देश से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें National News in Hindi 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here