मैप में लद्दाख को चीन का हिस्सा दिखाने पर ट्विटर ने मांगी माफी

सोशल मीडिया कंपनी ट्विटर ने लद्दाख को चीन का हिस्सा दिखाए जाने पर एक प्रमुख संसदीय समिति से लिखित में माफी मांगी है।

0
177
Twitter Apologised
मैप में लद्दाख को चीन का हिस्सा दिखाने पर ट्विटर ने मांगी माफी

New Delhi: सोशल मीडिया कंपनी ट्विटर ने लद्दाख को चीन का हिस्सा दिखाए जाने पर एक प्रमुख संसदीय समिति से लिखित में माफी (Twitter Apologised) मांगी है। बुधवार को डेटा सुरक्षा बिल पर संसदीय समिति की चेयरपर्सन मीनाक्षी लेखी ने इस बात की जानकारी दी है। और साछ ही यह वादा वादा किया गया है कि इस महीने के आखिर तक वह इस गलती को सुधार लेंगे।

सरकार ने ट्विटर को भेजा नोटिस, देश के नक्शे में की ये बड़ी गलती

ट्विंटर इंक के चीफ प्राइवेसी ऑफिसर डेमियन कैरियन के दस्तखत वाले शपथ पत्र में माफी मांगी (Twitter Apologised) गई है। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, समिति की चेयरपर्सन मीनाक्षी लेखी ने बताया कि हमें ट्विटर की तरफ से हलफनामा मिल गया है। इस हलफनामे में उन्होंने लद्दाख के हिस्से को गलत जियोटैग करने और इसे चीन का हिस्सा दिखाए जाने की गलती मान ली है। लेखी ने कहा कि ट्विटर ने इस गलती को 30 नवंबर तक ठीक करने की बात की है।

मालूम हो कि पिछले महीने डेटा प्रोटेक्शन बिल पर बनी संयुक्त संसदीय समिति ने लद्दाख को चीन में दिखाने के लिए ट्विटर के खिलाफ सख्त रुख अपनाया था। केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना तकनीक मंत्रालय (Ministry of Electronics and IT) ने इसे लेकर ट्विटर को नोटिस जारी किया था। समिति ने इसे देशद्रोह के बराबर माना था और ट्विटर से हलफनामे के रूप में सफाई देने को कहा था।

तीन साल में इतना बढ़ जाएगा ओटीटी प्लेटफार्म का बाजार, जानें जरूरी सूचना

बता दें कि भारत सरकार ने 22 अक्टूबर को ट्विटर को उसकी लोकेशन सेटिंग को लेकर सख्त चेतावनी दी थी। सरकार ने कहा था कि देश की संप्रभुता और अखंडता के प्रति किसी भी तरह का असम्मान मंजूर नहीं किया जाएगा। वहीं इससे पहले ट्विटर ने लेह को पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना के हिस्से के रूप में दिखाया था। जिसके बाद मंत्रालय ने ट्विटर के सीईओ को पत्र लिखकर आपत्ति जताई थी। जिसके जवाब में ट्विटर ने चीन को हटाते हुए मैप को सही किया था।

देश से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें National News in Hindi 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here