अमरनाथ यात्रा को निशाना बनाने की फिराक में आतंकी

थल सेना के एक अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. कि आतंकवादी अमरनाथ यात्रा (Amarnath Yatra) को निशाना बनाने की साजिश रच रहे है.

0
482
Amarnath Yatra

Jammu And Kashmir: थल सेना के एक अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. कि आतंकवादी अमरनाथ यात्रा (Amarnath Yatra) को निशाना बनाने की साजिश रच रहे है. ये जानकारी जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) में सुरक्षाबलों को खुफिया सूत्रों से मिली है कि हालांकि, उन्होंने जोर देते हुए कहा कि वार्षिक यात्रा को निर्बाध सुनिश्चित करने के लिए संसाधन समेत पूरी व्यवस्था की गई है. अधिकारी ने कहा कि शुक्रवार की मुठभेड़ में जैश-ए-मोहम्मद के एक स्वयंभू कमांडर सहित तीन आतंकवादियों का मारा जाना एक मुंहतोड़ जवाब है. यह 21 जुलाई को यात्रा शुरू होने से महज चार दिन पहले हुआ.

5 अगस्त को होगा राम मंदिर का भूमि पूजन, पीएम मोदी भी हो सकते है शामिल

आपको बता दें कि 21 जुलाई को अमरनाथ यात्रा (Amarnath Yatra) शुरू होने वाली है. टू सेक्टर के कमांडर, ब्रिगेडियर विवेक सिंह ठाकुर ने दक्षिण कश्मीर में संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘इस बारे में खुफिया सूचना है कि आतंकवादी यात्रा को निशाना बनाने की अपनी पूरी कोशिश करेंगे, लेकिन इसके निर्बाध एवं शांतिपूवर्क संपन्न होने की व्यवस्था की गई है तथा संसाधन लगाये गए हैं.”

पिछले 24 घंटे में देशभर में कोरोना के 34 हजार से ज्यादा नए मामले

उन्होंने कहा, ‘‘हम अमरनाथ यात्रा बगैर किसी विघ्न के शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने के लिये प्रतिबद्ध हैं और सुरक्षा स्थिति नियंत्रण में बनी रहेगी.” ब्रिगेडियर ठाकुर ने कहा कि राष्ट्रीय राजमार्ग 44 के एक हिस्से का उपयोग यात्री करेंगे, जो संदेनशनील बना रहेगा. उन्होंने कहा, ‘‘यह हिस्सा थोड़ा संवेदनशील है. यात्री सोनमर्ग (गंदेरबल) तक जाने के लिये इस रास्ते का उपयोग करेंगे और यह (बलटाल) एकमात्र मार्ग है, जो अमरनाथ गुफा जाने के लिए चालू रहेगा.”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here