पाकिस्तान की अदालत से नहीं बचा हाफिज, 10 साल की हुई सजा

हाफिज सईद को 10 साल 6 महीने की सजा सुनाई गई है। पाकिस्तान के एंटी टेरर कोर्ट ने टेरर फंडिंग से जुड़े होने पर सुनाई सजा।

0
158
26/11 Terror Attack
हाफिज सईद को 10 साल 6 महीने की सजा सुनाई गई है। पाकिस्तान के एंटी टेरर कोर्ट ने टेरर फंडिंग से जुड़े होने पर सुनाई सजा।

Mumbai: मुबंई के मास्टरमाइंड हाफिज सईद (Hafiz Saeed) को 10 साल 6 महीने की सजा सुनाई गई है। पाकिस्तान के एंटी टेरर कोर्ट ने टेरर फंडिंग से जुड़े होने को लेकर सजा सुनाई है। बता दें इस बार हाफिज सईद को चौथी बार सजा मिली है। जानकारी के मुताबिक सईद (Hafiz Saeed) पर अवैध रुप से जमीन हड़पने सहित 29 मामले चल रहे हैं। 

RCEP डील पर अलग-अलग बयान दे रही कांग्रेस, भाजपा ने ली चुटकी

कब-क्या हुआ था-

आपको बता दें हाफिज सईद (Hafiz Saeed) को वैश्विक आंतकवादी करार दिया हुआ है। अमेरिका ने उस पर एक करोड़ अमेरिकी डॉलर का इनाम रखा है। उसे पिछले साल 17 जुलाई को आतंकी वित्त पोषण के मामलों में गिरफ्तार किया गया था। आतंकी वित्त पोषण के दो मामलों में उसे इस साल फरवरी में आतंकवाद निरोधी अदालत द्वारा 11 साल कैद की सजा सुनाई गई थी। वह लाहौर की कड़ी कोट लखपत जेल में बंद है।

इससे पहले एफएटीएफ में कार्रवाई के डर से हाफिज सईद (Hafiz Saeed) की गतिविधि‍यों पर प्रतिबंध लगा दिया था। सजा सुनाए जाने के दौरान कोर्ट में सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए थे। साथ ही फरवरी महीने में हाफिज सईद और उसके कुछ सहयोगियों को 11 साल की जेल की सजा सुनाई गई थी। 

LoC पर सीजफायर को लेकर भारत का पाक को करारा जवाब, जानें क्या कहा

आतंकवाद (26/11 Terror Attack) निरोधी अदालत ने जमात उद दावा हाफिज सईद को 10 साल कैद की सजा सुनाई है। कोर्ट ने सईद की संपत्ति जब्त करने का निर्देश दिया है और 1.1 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है। सईद के दो साथियों जफर इकबाल और याहया मुजाहिद को 10.5 साल जेल की सजा दी गई है जबकि अब्दुल रहमान मक्की को भी 6 महीने जेल की सजा काटनी होगी।  बता दें काउंटर टेररिज्म डिपार्टमेंट ने जमात-उ-दावा के खिलाफ 41 केस दर्ज किए हैं जिनमें से 24 में फैसला आ चुका है, लेकिन अभी अदालतों में लंबित हैं। यानी मुकदमा अदालत में चल रहा है। खास बात यह है कि सईद के खिलाफ चार मामलों में फैसला आ चुका है। 

देश से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें National News in Hindi


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें और Twitter पर फॉलो करें. 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here