गणतंत्र दिवस पर किसान आंदोलन नहीं रुकेगा!, जानिए SC ने क्या कहा

कृषि कानूनों के विरोध में किसानों का प्रदर्शन 56 वें दिन भी जारी है। सुप्रीम कोर्ट ने दख़ल देने से इनकार कर दिया।

0
280
Supreme Court
कृषि कानूनों के विरोध में किसानों का प्रदर्शन 56 वें दिन भी जारी है। सुप्रीम कोर्ट ने दख़ल देने से इनकार कर दिया।

New Delhi: कृषि कानूनों के विरोध में किसानों का प्रदर्शन 56 वें दिन भी जारी है। किसान नेताओं ने साफ़ तौर पर कहा है कि वह 26 जनवरी को दिल्ली कूच करेंगे। जिसको लेकर दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में अर्जी दाख़िल की थी। इस अर्जी पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने दख़ल देने से इनकार कर दिया।

किसानों और सरकार के बीच 10वें दौर की बातचीत आज, क्या बनेगी बात?

सुप्रीम कोर्ट के चीफ़ चीफ जस्टिस एस ए बोबडे की बेंच ने कहा, “किसानों की ट्रैक्टर रैली या किसी प्रदर्शन के खिलाफ सरकार की अर्जी पर कोई आदेश जारी नहीं करेंगे। हम पहले ही कह चुके हैं कि इस बारे में पुलिस को फैसला लेने दें।”

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में सुनवाई के दौरान किसानों का पक्ष रखते हुए वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण (Prashant Bhushan) ने कहा कि किसान अपनी ट्रैक्टर रैली के साथ गणतंत्र दिवस मनाने जा रहे हैं और शांति भंग नहीं करेंगे। इस पर CJI ने कहा कि कृपया दिल्ली के नागरिकों को शांति का आश्वासन दें। एक अदालत के रूप में हम अपनी चिंता व्यक्त कर रहे हैं।

अन्नदाता मना रहे ‘महिला किसान दिवस’… गणतंत्र दिवस पर निकालेंगे ट्रैक्टर मार्च

वहीं सुप्रीम कोर्ट ने सरकार से कहा, “आप अर्जी वापस ले सकते हैं। इस मामले में आप अथॉरिटी हैं, आप ही कोई आदेश जारी कीजिए। ये ऐसा मामला नहीं है कि कोर्ट आदेश जारी करे।” कोर्ट की इस टिप्पणी के बाद केंद्र सरकार ने अपनी अर्जी वापस ले ली है।

बता दें कि किसान नेता साफ़ तौर पर कह चुके हैं कि 26 जनवरी को परेड में शामिल होंगे। उन्होने यह भी स्पष्ट किया है कि वह इस दौरान शांतिपूर्वक प्रदर्शन करेंगे। लेकिन किसान नेताओं ने दिल्ली में प्रदर्शन (Kisan Andolan) को लेकर अभी तक दिल्ली पुलिस से लिखित में परमीशन नहीं ली है।

देश से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें National News in Hindi 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here