दिल्ली-एनसीआर में रहने वाले हो जाएं सावधान, हवाओं में घुलने वाला है जहर

दिल्ली-एनसीआर की हवाओं में जहर घुलने वाला है। अभी तक अच्छी हवा में सांस ले रहे यहां के लोग बहुत जल्द ही जहरीली हवाओं का सामना करने वाले हैं।

0
839
Air Pollution
दिवाली की रात दिल्ली के बिगड़ सकते है हालात, जहरीली हुई हवा

नई दिल्ली। पिछले करीब दो महीने से अच्छी हवा में सांस ले रहे दिल्ली एनसीआर  के करोड़ों लोगों के लिए बुरी खबर आ रही है। दरअसल, दिल्ली के अलावा गुरुग्राम, फरीदाबाद, नोएडा, गाजियाबाद, फरीदाबाद और सोनीपत की हवा में अगले सप्ताह से प्रदूषण का स्तर धीरे-धीरे बढ़ना शुरू हो जाएगा।

छिनने वाली है दिल्ली-NCR की राहत

लगातार रुक-रुक कर हो रही बारिश के चलते पिछले कुछ महीनों के दौरान दिल्ली-एनसीआर की हवा में प्रदूषण का स्तर सामान्य रहा था, जो अब तक जारी है। पिछले दिनों यह खबर आई थी कि पड़ोसी राज्य हरियाणा और पंजाब में परानी जलाने का सिलसिला शुरू हो चुका है और आने वाले दिनों में जोर पकड़ेगा।

हरियाणा और पंजाब में अगले कुछ दिनों में पराली जलाए जाने के बाद दिल्ली-एनसीआर का प्रभावित होना तय है। फिलहाल नमी भरी पूर्वी हवा चल रही है। इसकी वजह से फसल अवशेष का धुआं दिल्ली एनसीआर में नहीं पहुंच रहा है। अनुमान के मुताबिक, 7 अक्टूबर के बाद हवा की दिशा में बदलाव होगा, इसके बाद लोगों की परेशानी बढ़ जाएगी।

ये भी पढ़ें: बिहार में बाढ़: मरने वालों की संख्या 23 पहुंची, CM नीतीश कुमार बोले- क्या करें, कुदरत पर किसका काबू

केंद्र सरकार द्वारा संचालित संस्था सफर इंडिया  का अनुमान है कि अगले सप्ताह से वायु की गुणवत्ता में गिरावट आने लगेगी। वायु गुणवत्ता, मौसम पूर्वानुमान अनुसंधान प्रणाली पराली जलाया जाना इसकी मुख्य वजह मान रहा है। वहीं, भारतीय मौसम विज्ञान विभाग का कहना है कि उत्तर की ओर से चलने वाली हवा भी दिल्ली के मौसम पर असर डालने लगेगी। इससे दिल्ली का प्रदूषण बढ़ सकता है। इस महीने के अंत तक दिवाली है, ऐसे में पटाखों के जलाए जाने से भी प्रदूषण में भारी इजाफा हो सकता है।

अगले सप्ताह से बिगड़ सकती है दिल्ली की हवा

सफर इंडिया के निदेशक गुफरान बेग बताते हैं कि उत्तर भारत में पराली का जलना शुरू हो चुका है, लेकिन फिलहाल पूर्व की तरफ से चल रही तेज हवा की वजह से इसका असर नहीं पड़ रहा। गुफरान बेग का कहना है कि यह हवा सात अक्टूबर के बाद अपना रुख बदल लेगी। ऐसे में इसके बाद हवा की गुणवत्ता खराब हो सकती है।

ये भी पढ़ें: शास्त्री जयंती: पत्नी के लिए साड़ी खरीदने पर दुकानदार से क्यों भिड़ गए थे शास्त्रीजी, जानिए रोचक किस्से

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here