चालान कटने से भड़के जेई ने 6 घंटे तक उड़ाई पुलिस की नींद

0
851
जूनियर इंजीनिर का कटा चालान तो कर दी थाने की बत्ती गुल

नई दिल्ली। ट्रैफिक चालान कटने का किसी के ऊपर कितना असर पड़ सकता है इसकी मिसाल मेरठ में देखने को मिली है. दरअसल इन दिनों ट्रैफिक नियमों में बदलाव किए गए हैं जिसके बाद नियमों को तोड़ने पर ट्रैफिक पुलिस लोगों का 10 गुना तक ज्यादा ट्रैफिक चालान काट रही है. ऐसे में लोग ट्रैफिक पुलिस के डर से ट्रैफिक नियमों का सख्ती से पालन कर रहे हैं.

 

लेकिन आज हम आपको एक ऐसी घटना के बारे में बताने जा रहे हैं, जो आपको हैरान कर देगी. दरअसल मेरठ में ट्रैफिक चालान को लेकर पुलिस और बिजली विभाग आमने सामने आ गए. इसके चलते पुलिस चौकी में 6 घंटे के लिए बिजली काट दी गई.

 

दरअसल उत्तर प्रदेश के मेरठ में तेजगढ़ी पुलिस चौकी के पास पुलिस वाहनों की चेकिंग कर रही थी. इसी दौरान JE सोम प्रकाश अपनी स्कूटी से जा रहे थे, जहां पुलिस की तरफ से उन्हें चेकिंग के लिए रोका गया. सोम प्रकाश ने DL, RC समेत सभी कागज दिखाए, लेकिन इस दौरान उनके पास पॉल्यूशन सर्टिफिकेट और हेलमेट नहीं था. इसके बाद वहां मौजूद पुलिस इंस्पेक्टर हेल्मेट और पॉल्यूशन सर्टिफिकेट नहीं होने के कारण JE की स्कूटी का चालान काट दिया.

 

चालान कटने से भन्नाए जेई ने भी अपने डिपार्टमेंट के नियमों का पालन कर डाला और दरोगा को जवाब देते हुए उसके इलाके की पुलिस चौकी और संबंधित थाने का बिजली कनेक्शन काट दिया. इसके बाद पुलिस 6 घंटे अंधेरे में रही.

 

जेई सोम प्रकाश के मुताबिक उसने पुलिसवालों को अपना परिचय दिया और दलील दी कि उसके सिर में एलर्जी हो रही है इसलिए वह हेल्मेट नहीं लगा सके. उसने पुलिस कर्मचारियों से चालान नहीं करने का आग्रह किया. आरोप है कि ट्रैफिक पुलिस नहीं मानी और जेई का चालान कर दिया. इस बीच दोनो पक्षों में नोकझोंक हो गई.

दरोगा के ये कहने पर कि नियम सबके के लिए समान हैं तो जेई ने भी नियम का पाठ पढ़ा डाला. जेई ने कहा कि थाने और चौकियों का समय पर बिजली का बिल जमा नहीं होता है. वहां भी पुलिस को नियमों का पालन करना चाहिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here