पाकिस्तान में तेजी से बढ़ी गधों की संख्या, जानें किसके साथ मिलकर कमा रहा मुनाफा

क्या आपको पता है इन गधों से इमरान सरकार किस तरह से मुनाफा कमा रही है। अगर नहीं तो हम आपको इसकी इनसाइड स्टोरी बताते है।

0
332
Pakistan Donkey
क्या आपको पता है इन गधों से इमरान सरकार किस तरह से मुनाफा कमा रही है। अगर नहीं तो हम आपको इसकी इनसाइड स्टोरी बताते है।

Pakistan: पाकिस्तान अक्सर राजनीति से ज्यादा अपने कारनामों को लेकर सुर्खियों में बना रहता है। कभी प्याज और टमाटर की मार झेलता दिखाई देता तो वहीं कभी गधों (Pakistan Donkey) की संख्या को लेकर चर्चा में आ जाता है। क्या आपको पता है इन गधों से इमरान सरकार किस तरह से मुनाफा कमा रही है। अगर नहीं तो हम आपको इसकी इनसाइड स्टोरी बताते है। 

राहुल के 4 यार, जिसमें 2 ने पारी बदली…क्या सचिन भी होंगे बीजेपी में शामिल

दरअसल, इन तीन लाख नए गधों को जोड़ने के बाद पाकिस्तान में इस जानवर की कुल आबादी 56 लाख तक पहुंच गई है। इसी के साथ पाकिस्तान ने गधों की आबादी में दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा देश बन गया है। अहम बात ये है कि हर साल 80 हजार गधों (Donkey) को चीन भेजकर मुनाफा कमाता है। इन गंधों का मास और बाकी काम के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इसकी खाल का उपयोग चीन में कई तरह से किया जाता है। खाल से निकली जिलेटिन से कई प्रकार की दवाएं भी बनाई जाती हैं। 

12 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए आएगी वैक्सीन, ब्रेटेन में मिली मंजूरी

कंपनियों ने किया है निवेश

बता दें पाकिस्तान में गधों (Donkey) के व्यापार के लिए चीन की कई कंपनियां लाखों डॉलर का निवेश कर रहीं है। पाकिस्तान में गधों के नस्लों के हिसाब से उनके दाम तय होते हैं। पहले भी ऐसा होता रहा है।

कितना मुनाफा कमा रहा पाक

पाकिस्तान में एक गधे की खाल के 15 से 20 हजार पाकिस्तानी (Pakistan Donkey Price) रुपये कीमत है। जिसे बेचकर पाकिस्तान खूब मुनाफा भी कमा रहा है। इतना ही नहीं, पाकिस्तान में गधों के इलाज के लिए अलग से हॉस्पिटल भी बने हैं।  

Read More Articles on National News in Hindi 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here