केंद्र सरकार का दिवाली गिफ्ट, जानिए सीतारमण ने क्या कहा

दिवाली से पहले देश को शानदार गिफ्ट दिया है। आज वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना को लॉन्च किया।

0
167
Q2 GDP India
खराब अर्थव्यवस्थाओं में इस नंबर पर भारत, पहले पर है ब्रिटेन

New Delhi: मोदी सरकार ने दिवाली से पहले देश को शानदार गिफ्ट दिया है। आज वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitaraman) ने आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना को लॉन्च किया। साथ ही पलायन करने वाले मजदूरों के लिए भी खास तरह का बूस्टर तैयार किया है। निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitaraman) का कहना है कि अर्थव्यवस्था में मजबूती और सुधार लाने के लिए इस कदम को उठाया गया है। अक्टूबर में जीएसटी 10 प्रतिशत बढ़ा है।  बैंक ऋण में 5.1 प्रतिशत का सुधार हुआ है और ऊर्जा खपत में वृद्धि देखने को मिली है। महामारी के समय में भी जीएसटी कलेक्शन और विदेशी निवेश बढ़ा है। 

जानिए जेल से रिहा होने के बाद अर्नब ने किसको दी चुनौती

भारत रोजगार योजना-

आत्मनिर्भर (Nirmala Sitaraman) भारत रोजगार योजना के तहत नई योजना लॉन्च होने जा रही है। वित्त मंत्री ने रोजगार सृजन को आगे बढ़ाने के लिए इस रोजगार योजना की घोषणा की है। इस योजना के तहत किसानों को 25,000 करोड़ रुपये का वितरण किया गया है।

पीएम आवास योजना-

पीएम आवास योजना के तहत 18,000 करोड़ रुपये खर्च करने की बात कही गई है। इससे पहले इस योजना में 8,000 करोड़ रुपये खर्च किए गए थे। इसके साथ ही 78 लाख से ज्यादा रोजगार (Nirmala Sitaraman) के मौके पैदा किए जाएंगे। 

इस साल कब है छठ, नहाय-खाय और खरना? जानें पूजा विधी, मुहर्त तथा महत्व

जानिए हाउसिंग सेक्टर में क्या है-

हाउसिंग के क्षेत्र में एक और बड़ा ऐलान किया गया है। खास बात यह है कि घर बनाने वाले और घर खरीदने वाले दोनों लोगों को फायदा होगा। इनकम टैक्स एक्ट में 10 प्रतिशत की छूट दी गई थी। लेकिन अब बढ़ाकर 20 परसेंट कर दिया गया है। लेकिन ये सिर्फ 2 करोड़ रुपये की कीमत के घरों के लिए ही है। और ये स्कीम भी 31 मार्च 2021 तक ही लागू रहेगी।

पिछला पैकेज मई में आया था-

कोरोना वायरस और लॉकडाउन की वजह से भारत सरकार ने पिछले पैकेज में ज्यादा फोकस नही किया था। यानी कहा जा सकता है कि मोटे तौर पर सरकार सफल नही हुई थी। इस पैकेज में कोरोना से बुरी तरह प्रभावित सेक्टर जैसे टूरिज्म, हॉस्पिटैलिटी और एविएशन छूट गए थे। लेकिन अब इन सेक्टरों पर भी ध्यान दिया जाएगा। 

देश से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें National News in Hindi 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें और देखें हमारा एक्सक्लूसिव वीडियो कंटेंट. सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें और Twitter पर फॉलो करें. 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here