Monsoon Session 2020: सीमा विवाद पर बोले रक्षा मंत्री, महामारी को लेकर विपक्ष ने साधा निशाना

राज्यसभा में राजनाथ सिंह ने कहा कि सीमा पर अगर तनाव जारी रहेगा तो द्विपक्षीय रिश्तों पर इसका सीधा असर आएगा। हमारी सेना ने चीन को भारी नुकसान पहुंचाया।

0
285
Monsoon Session 2020
संसद के मॉनसून सत्र के चौथे दिन भारत-चीन सीमा विवाद पर बोले राजनाथ सिंह

New Delhi: कोरोना महामारी के बीच आज संसद के मॉनसून सत्र (Monsoon Session 2020) का चौथा दिन है। भारत-चीन सीमा पर जारी विवाद को लेकर राज्यसभा में बोलते हुए राजनाथ सिंह (Rajnath Singh)  ने कहा कि सीमा पर अगर तनाव जारी रहेगा तो द्विपक्षीय रिश्तों पर इसका सीधा असर आएगा। हमारी सेना ने चीन को भारी नुकसान पहुंचाया। चीन की कथनी और करनी में फर्क है। उन्होंने कहा कि मैं देश को आश्वस्त करना चाहता हूं कि हम देश का मस्तक किसी भी कीमत पर झुकने नहीं देंगे और न ही हम किसी का मस्तक झुकाना चाहते हैं।

रक्षा मंत्री ने (Monsoon Session 2020) आगे कहा कि हमारे सैनिकों ने चीन की गतिविधियों के सामने ‘सयंम’ को बनाए रखा और भारत की क्षेत्रीय अखंडता की रक्षा के लिए आवश्यक रूप से ‘शौर्य’ का भी प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा कि चीन द्वारा सैनिकों को इकट्ठा करना 1993 और 1996 में हुए समझौतों के खिलाफ है। साथ ही उन्होंने साफ कर दिया कि भारत किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए तैयार है।

लद्दाख में हम एक चुनौती के दौर से गुजर रहे हैं- राजनाथ सिंह

वहीं राज्यसभा में गुरुवार को शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि देश की आर्थिक हालत बहुत गंभीर है,अब स्थिति ऐसी है कि हमारी GDP और हमारा RBI भी कंगाल हो चुका है, ऐसे में सरकार एयर इंडिया,रेलवे, LIC और काफी कुछ बाज़ार में बेचने के लिए लाई है। बहुत बड़ा सेल लगा है, अब इस सेल में जवाहरलाल नेहरू पोर्ट ट्रस्ट को भी खड़ा कर दिया है।

कोरोना महामारी पर शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा, ‘मेरी मां और मेरा भाई कोविड-19 से संक्रमित हैं। महाराष्ट्र में भी कई लोग ठीक हो रहे हैं। आज धारावी में स्थिति नियंत्रण में है। डब्ल्यूएचओ ने बीएमसी के प्रयासों की सराहना की है। मैं इन तथ्यों को बताना चाहता हूं क्योंकि यहां कुछ सदस्य महाराष्ट्र सरकार की आलोचना कर रहे थे।’

राज्यसभा में कोरोना पर चर्चा बनी रही, तेदेपा सदस्य के रवींद्र कुमार मेदला ने आंध्र प्रदेश में कोरोना वायरस से संक्रमण के मामलों में तेजी से हो रही वृद्धि पर चिंता जतायी। वहीं भाकपा के विनय विश्वम ने कहा कि मंत्री के कई पृष्ठों में फैले बयान में केरल का कोई जिक्र नहीं है। उन्होंने कहा कि केरल में इस बीमारी से प्रभावी तरीके से निपटा गया है लेकिन पूरे देश में कोरोना वायरस की स्थिति चिंताजनक है। इसके अलावा कांग्रेस नेता गुलाब नबी आजाद ने कहा कि सरकार ने कोरोना को रोकने का स्वर्णिम अवसर खो दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here