सुप्रीम कोर्ट ने सरकार से मांगा जवाब, कहा-”कानून पर रोक लगा दें”

कृषि कानून को लेकर सुनवाई होनी Kisan Andolan थी। इस दौरान सुप्रीम कोर्ट ने आज सख्त रुख दिखाते हुए सरकार को फटकार लगाई है।

0
156
Kisan Andolan 2020
कृषि कानून को लेकर सुनवाई होनी Kisan Andolan थी। इस दौरान सुप्रीम कोर्ट ने आज सख्त रुख दिखाते हुए सरकार को फटकार लगाई है।

New Delhi: किसान आंदोलन (Kisan Andolan 2020) का आज 47वां दिन था। आज ही के दिन सुप्रीम कोर्ट में तीन कृषि कानून को लेकर सुनवाई होनी थी। इस दौरान सुप्रीम कोर्ट ने आज सख्त रुख दिखाते हुए सरकार को फटकार लगाई है। कोर्ट ने सरकार से सीधे तौर पर कह दिया है कि कानून स्थगित करें या फिर इसपर रोक लगा दे। कोर्ट ने किसान आंदोलन पर सरकार के विवाद निपटाने के तरीके पर पर नाराजगी जताई। सुनवाई के दौरान SC (Kisan Andolan 2020) ने सरकार से कई सवाल किए। 

‘जब तक कानून वापसी नहीं, तब तक आंदोलन जारी’

चीफ जस्टिस रंजन गोगोई (Ranjan Gogoi) ने सुनवाई शुरू होते ही कहा कि हम अपने इंटेशन को सबको साफ-साफ बता दें। हम इस मसले का समाधान चाहते हैं। यही वजह है कि हमने आपको पिछली बार कहा था कि क्यों नहीं इस कानून को कुछ दिन के लिए स्थगित कर देते हैं? ”आप बताइए कि कानून पर रोक लगाएंगे या नहीं ? नहीं तो हम लगा देंगे”। 

किसान और सरकार बीच घमासान जारी, कानून वापस लेने को नहीं है तैयार

SC की टिप्पणियों ने कांग्रेस ने क्या कहा-

बता दें कांग्रेस (Kisan Andolan 2020) ने ट्वीट कर लिखा कि सुप्रीम कोर्ट ने जबरदस्त टिप्पणियां की है। बिल वापसी और माफी मांगते हुए भाजपा सरकार का किसान विरोधी रवैया नरम हो जाना चाहिए।’’‘’आज बीजेपी सरकार को ये मानना चाहिए कि वो काले कानूनों के जरिए किसानों का पागल बना रहीं थीं.’’ 

क्या 26 मार्च को नहीं होगा विरोध-

दरअसल, किसान नेताओं (Farmers Bill 2020)ने 26 मार्च को विरोध करने का ऐलान किया था। लेकिन अब फैसला बदल दिया गया है। किसान संगठनों के वकील दुष्यंत दवे ने कहा कि हम 26 जनवरी को ट्रैक्टर मार्च नहीं किया जाएगा। इन सब के बीच केंद्र सरकार के साथ कई दौर की बातचीत फेल होने के बाद, किसान संगठनों के नेता आंदोलन तेज करने की रणनीति बनाने में लगे हैं। अगले दौर की बातचीत 15 जनवरी को होनी है। 

देश से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें National News in Hindi 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here