किसान संगठनों की आज अहम बैठक, आंदोलन को हुए एक महीने पूरे

किसानों के प्रदर्शन को आज एक महीने पूरे हो गए है। केंद्र सरकार द्वारा लागू किए गए तीनों कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग को लेकर किसान डटे हुए है।

0
262
Kisan Andolan
किसान संगठनों की आज अहम बैठक, आंदोलन को हुए एक महीने पूरे

New Delhi: दिल्ली सीमाओं पर डटे किसानो के प्रदर्शन को आज एक महीने पूरे हो गए है। किसान केंद्र सरकार द्वारा लागू किए गए तीनों कृषि कानूनों (Agriculture Law) को रद्द करने की मांग को लेकर डटे हुए है। बताया जा रहा है कि किसान संगठन और सरकार के बीच आज बातचीत होनी है। इससे पहले भी किसान और सरकार (Kisan Andolan) के बीच पांच से छह राउंड की वार्ता हुई है लेकिन अब तक कोई हल नहीं निकल पाया है।

किसान आंदोलन के बीच ‘किसान दिवस’, राजनाथ सिंह ने कहा जल्द सुलझ…

बता दें कि शुक्रवार को पीएम मोदी ने पीएम किसान सम्मान निधि के तहत 9 करोड़ से अधिक किसानों के खातों में 18,000 करोड़ रुपये हस्तांतरित किए। पीएम ने इस दौरान किसनों के प्रदर्शन को विपक्ष पर निशान साधते हुए कहा कि “किसानों को बदनाम कर कुछ लोग अपनी राजनीति चमका (Farmers Protest) रहे हैं। पहले की सरकारों की नीति के कारण वो किसान बर्बाद हुआ, जिसके पास कम जमीन थी।”

पीएम ने यह भी कहा था कि सरकार की आधुनिक खेती को लेकर बल दिया गया है और सरकार का फोकस किसानों के खर्च को कम करना है। वहीं आज शनिवार को दोपहर 2 बजे सयुक्त किसान मोर्चा की बैठक होगी। इस बैठक के दौरान शुक्रवार को पीएम मोदी द्वारा दिए गए भाषण और सरकार की और से भेजी गई चिट्ठी पर चर्चा की जाएगी।

किसानों के खाते में रुपए डालेंगे पीएम मोदी, होगा इतने करोड़ का फायदा

पीएम के शुक्रवार को दिए गए भाषण के बाद सिंघु बॉर्डर पर डटे किसानों ने नाखुशी जाहिर की है। किसानों का कहना है कि प्रधानमंत्री को लगता है कि किसान विपक्ष के बहकावे में हैं (Kisan Andolan) लेकिन ये सच नहीं है। किसानों ने कहा है कि किसी भी मंच पर किसी नेता को आने नहीं दिया गया है और न विपक्ष पीछे से हमें प्रभावित कर रहा है।

मालूम हो कि तीन नए कृषि कानूनों को केंद्र सराकर कृषि सुधारों में एक बड़ा कदम मानती है। सरकार का कहना है कि इससे किसान अपने पसंद की कीमत से अनाज बेच सकेंगे लेकिन किसानों का मानना है कि इससे सरकार की ओर से मिल रही MSP का सेफ्टी वॉल्व खत्म हो जाएगा।

देश से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें National News in Hindi 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here