आज के दिन हुआ था देश के पहले पीएम का निधन, जानें पूरा इतिहास

भारत के पहले पीएम जवाहरलाल नेहरु का आज के दिन निधन हुआ था। इस घटना ने एक बड़ा मोड़ ले लिया था।

0
543
Jawaharlal Nehru Death Anniversary
भारत के पहले पीएम जवाहरलाल नेहरु का आज के दिन निधन हुआ था। इस घटना ने एक बड़ा मोड़ ले लिया था।

New Delhi: भारत के पहले पीएम जवाहरलाल नेहरु (Jawaharlal Nehru Death Anniversary) का आज के दिन निधन हुआ था। इस घटना ने एक बड़ा मोड़ ले लिया था। इस दिन के नाम पर इतिहास में कई बड़ी घटनाएं दर्ज की गई है।

Also Read Kisan Andolan को आज पूरे हुए 6 महीने, जानें इससे जुड़ी बड़ी बातें

  • सन् 1957 में कॉपीराइट विधेयक की मंजूरी दी गई और इसे 1958 में लागू कर दिया गया
  • 1964 में आजाद भारत के पीएम जवाहरलाल नेहरु का निधन हुआ था
  • 1977 में पैन एम और केएलएम के दो विमान आपस में टकरा गए थे, जिसमे 582 की मौत हो गई थी
  • 1980 में दक्षिण कोरियाई पुलिस ने जन आंदोलन को रोका था, जिसमें 2000 लोगों की मौत हुई थी
  • 1991 में आस्ट्रिया के बोइंग विमान में धमाका हुआ था, जिसमें 223 लोग मारे गए
  • 1994 में रुसी मूल के उपन्यासकार अलेक्सांदर सोलजेनित्सिन ने 20 सालों तक अमेरिका में रह कर घर वापसी की थी
  • 2006 में हॉलीवुड की चार फिल्मों में सुपरमैन की भूमिका निभाने वाले क्रिस्टोफर रीव घोड़े से गिरे थे
  • 2020 में कोरोना वायरस की पहली लहर शुरु हुई, इसकी दूसरी लहर अब भी जारी है। 

Also Read बच्चों पर नहीं होगा कोरोना की तीसरी लहर का असर! जानिए सरकार ने क्या कहा?

27 मई 1964 में आया था अटेक

27 मई को सुबह 06.30 बजे पंडित नेहरू (Jawaharlal Nehru Death Anniversary) को पहले पैरालिटिक अटैक आया और फिर हार्ट अटैक आया, इसके बाद डॉक्टरों ने बचाने की कोशिश की, लेकिन नेहरु कोमा में चले गए। शरीर से कोई रिस्पांस नहीं मिल रहा था, जिससे पता लगे कि इलाज कुछ असर कर भी रहा है या नहीं। इसके बाद दोपहर तक जवाहरलाल नेहरु नहीं रहे।

कश्मीरी थे नेहरु

11 बार राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय एजेंसियों द्वारा उनको नामित किया गया। उनके नाम में जो पंडित जुड़ा है, वह इसलिए नहीं कि वह विद्वान थे, दरअसल, उनका ताल्लुक कश्मीरी पंडित से था। इसलिए उनके नाम में पंडित लिखा जाता था। पंडित नेहरू ने भारत पर दो किताबे भी लिखी है, Discovery of India और Glimpses of the World

कब हुई थी शादी

26 साल की उम्र में उनकी शादी 16 साल की कश्मीर ब्राह्मण बालिका से हो गया जिनका नाम कमला कौल था। उनके पिता पुरानी दिल्ली में एक व्यापारी थे। 1947 में भारत को आजादी मिलने पर जब पीएम के पद के लिए मंथन किया जा रहा था तब सरदार वल्लभभाई पटेल (Vallabh Bhai Patel) और आचार्य कृपलानी (Acharya Kripalani) का नाम सामने आया था, लेकिन महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) के कहने पर दोनों ने नाम वापस ले लिए और पंडित जवाहरलाल नेहरु को देश का पीएम बना दिया गया। 

देश से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें National News in Hindi 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here