हर साल 4 दिसंबर को क्यों मनाया जाता है भारतीय नौसेना दिवस?

नौसेना दिवस भारतीय नौसेना की जीत के जश्न में मनाया जाता है। आज नौसेना दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री ने नौसेना कर्मियों को शुभकामनाएं दी।

0
363
Indian Navy Day 2020
हर साल 4 दिसंबर को क्यों मनाया जाता है भारतीय नौसेना दिवस?

New Delhi: हर वर्ष नौसेना दिवस (Indian Navy Day 2020) भारत में 4 दिसंबर को मनाया जाता है। इस दिन वर्ष 1971 में भारतीय नौसेना के जांबाजों ने पकिस्तान को धूल चटाई थी। नौसेना दिवस भारतीय नौसेना की जीत के जश्न में मनाया जाता है। आज नौसेना दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री मोदी ने नौसेना कर्मियों को ट्वीट के जरिए बधाई दी है।

पीएम ने लिखा- “हमारे सभी बहादुर नौसेना कर्मियों और उनके परिवार वालों को नौसेना दिवस की शुभकामनाएं। भारतीय नौसेना निडर होकर हमारे तटों की रक्षा करती है और जरूरत के समय मानवीय सहायता भी प्रदान करती है। हमें सदियों से चली आ रही भारत की समृद्ध समुद्री परंपरा हमेशा याद रहेगी।”

क्यों मनाया जाता है नौसेना दिवस

तीन दिसंबर, भारत एयरस्पेस और सीमा क्षेत्र पर पाकिस्तानी सेना द्वारा हमला किया गया था। इस हमले के बाद ही 1971 में युद्ध शुरू हुआ था। इसके बाद पाकिस्तान को तीखा जवाब देने के लिए ‘ऑपरेशन त्रिशूल (ट्राइडेंट)’  की शुरूआत की गई था। भारतीय नौसेना ने ‘ऑपरेशन त्रिशूल’ के तहत पाकिस्तान के कराची नौसैनिक अड्डे को तहस-नहस कर दिया था। इस ऑपरेशन की सफलता को ध्यान में रखते हुए, भारत में हर वर्ष 4 दिसंबर को नौसेना दिवस मनाया जाता है।

यह ऑपरेशन पाकिस्तानी नौसेना के कराची मुख्यालय को टारगेट करके शुरू किया गया था। एक हमलावर समूह जिसमें एक मिसाइल नाव और दो युद्धपोत शामिल थे। इस युद्ध में (Indian Navy Day 2020) पहली बार जहाज पर एंटी शिप मिसाइल से हमला किया गया था। इस हमले में पाकिस्तान के कई जहाज नष्ट हो गए थे।

कब स्थापित की गई भारतीय नौसेना? 

भारतीय नौसेना हमारी भारतीय सेना का एक समुद्री हिस्सा है। नौसेना को 1612 में स्थापित किया गया था। जब ईस्ट इंडिया कंपनी ने अपने जहाजों की सुरक्षा के लिए सेना का गठन किया तब रॉयल इंडियन नेवी का नाम दिया गया था। भारत की स्वतंत्रता के बाद, नौसेना को वर्ष 1950 में फिर से गठित किया गया और इसका नाम बदल कर भारतीय नौसेना कर दिया गया था।

बता दें कि नौसेना दिवस समारोहों पर जिन गतिविधियों और कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है, उसकी योजना विशाखापट्टनम (Navy Day 2020) में स्थित भारतीय नौसेना कमान द्वारा तैयार की जाती है। शुरुआत युद्ध स्मारक पर पुष्प अर्पित करके की जाती है और उसके बाद नौसेना की पनडुब्बियों, जहाजों, विमानों आदि की ताकत और कौशल का प्रदर्शन किया जाता है।

देश से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें National News in Hindi 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here