LAC पर हालात अब भी नाजुक, चीन को देंगे करारा जवाब – जनरल रावत

भारत-चीन की बातचीत के बीच चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत ने एक वेबिनार में बोलते हुए कहा कि लद्दाख में भारत-चीन सीमा पर तनाव बना हुआ है।

0
224
India-China Issue
LAC पर हालात अब भी नाजुक, चीन को देंगे करारा जवाब - जनरल रावत

New Delhi: पूर्वी लद्दाख में लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (LAC) में तनातनी को लेकर भारत और चीन के बीच एक बार फिर शनिवार को कोर कमांडर स्तर की बातचीत जारी है। सीमा विवाद पर भारत-चीन की बातचीत के बीच चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS Bipin Rawat) बिपिन रावत ने एक वेबिनार में बोलते हुए कहा कि लद्दाख में भारत-चीन सीमा पर तनाव (India-China Issue) बना हुआ है।

बिपिन रावत ने कहा कि लद्दाख में चीन की आर्मी की गलत हरकतों का भारतीय सेना करारा जवाब दे रही है। उन्होंने कहा कि चीन की पीपुल्‍स लिबरेशन आर्मी (PLA) लद्दाख में अपने दुस्साहस को लेकर भारतीय बलों की मजबूत प्रतिक्रिया के कारण अनपेक्षित परिणाम का सामना कर (India-China Issue) रही है। रावत ने कहा, ‘हमारा रुख साफ है कि हम लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल में कोई बदलाव स्वीकार नहीं करेंगे।’

सीडीएस रावत ने कहा, ‘आने वाले सालों में, हम देखेंगे कि हमारा रक्षा उद्योग तेजी से बढ़ रहा है और समग्र रक्षा तैयारियों में योगदान दे रहा है। इसके अलावा हमें अत्याधुनिक हथियार और उपकरण पूरी तरह से भारत में उपलब्ध करवा रहा है। जहां तक रक्षा सहयोग का सवाल है, हम रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण देशों के साथ आपसी विश्वास और साझेदारी बनाने में रक्षा कूटनीति का महत्व समझते हैं।

लद्दाख पहुंचे आर्मी चीफ, पैंगोंग में आमने-सामने है सेनाएं

भारतीय सेना की आत्मनिर्भरता पर जनरल रावत ने कहा, “जैसे-जैसे भारत का कद बढ़ता जाएगा, सुरक्षा चुनौतियां भी बढ़ती जाएंगी। ” उन्होंने कहा, “हमें रणनीतिक स्वतंत्रता और निर्णायक सैन्य शक्ति के लिए वर्तमान और उभरती चुनौतियों को पूरा करने के लिए निर्माण में निवेश करना होगा।” बता दें कि दोनों देशों के बीच कई बार हुई बातचीत के बावजूद अब तक कोई ठोस परिणाम नहीं निकला है। LAC पर भारत और चीन दोनों देशों के लगभग 50,000-50,000 सैनिक तैनात है।

देश से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें National News in Hindi 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here