चीन के साथ बातचीत पर जनरल बिपिन रावत का बड़ा बयान…

चीफ आफ डिफेंस स्‍टाफ जनरल बिपिन रावत ने कहा कि लद्दाख में चीनी पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के तरफ से किए गए बदलावों से निपटने के लिए सैन्‍य विकल्‍पों पर भी विचार हो रहा है।

0
253
India China Border
चीन के साथ बातचीत पर जनरल बिपिन रावत का बड़ा बयान...

New Delhi: भारत और चीन के बीच जारी सीमा विवाद (India And China Issue) पर चीफ आफ डिफेंस स्‍टाफ जनरल बिपिन रावत (General Bipin Rawat) ने बड़ा बयान दिया है। उन्‍होंने कहा कि लद्दाख में (India China Border) चीनी पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के तरफ से किए गए बदलावों से निपटने के लिए सैन्‍य विकल्‍पों पर भी विचार हो रहा है। रावत ने यह बयान उस समय दिया है, जब चीन सीमा पर (India China Border) बातचीत को लगातार असफल कर रहा है।

भारत की चीन को चेतावनी, 5वें चरण की बातचीत में कहा LAC से पिछे हटे

उन्‍होंने यह भी कहा कि अगर बातचीत फेल होती है तो सैन्‍य विकल्‍पों पर विचार किया जा रहा है। उन्‍होंने कहा कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) , राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल (Ajit Doval) और राष्‍ट्रीय सुरक्षा के जिम्‍मेदार लोग इस कोशिश के साथ सभी विकल्‍पों पर विचार कर रहे हैं कि पीएलए लद्दाख में पहले जैसी स्थिति में लौट जाए। सीडीएस रावत ने इस धारणा को भी खारिज कर दिया कि प्रमुख खुफिया एजेंसियों के बीच संयोग की कमी है।

वहीं रविवार को चीन सीमा तनाव पर रक्षामंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल (Ajit Doval) और सीडीएस बिपिन रावत (Bipin Rawat) के साथ बैठक की थी। इस बैठक में तीनों ने वर्तमान हालात और चीन के रवैये पर चर्चा की। बताया जा रहा है कि यह बैठक तकरीबन डेढ़ घंटे तक चली थी।

एलएसी पर सर्दियों में भी बरकरार रहेंगी भारतीय सेना की स्थिति

बता दें कि सीडीएस बिपिन रावत के इस बयान से पहले 15 अगस्त यानि स्वतंत्रता दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दो टूक शब्दों में कहा था कि ‘एलओसी से लेकर एलएसी तक जिसने भी भारत की संप्रभुता की तरफ आंख उठाकर देखा है देश की सेना ने उसका उसी की भाषा में जवाब दिया है.’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here