हिंसक झड़प में चीन का कमांडिंग अफसर मरा, करीब 40 चीनी सैनिक हताहत

0
434
India China Faceoff
File Picture

भारत – चीन के सैनिकों के बीच गलवान घाटी के पास हुई हिंसक झड़प में चीन को तगड़ा नुकसान हुआ है. खबर मिली है कि बॉर्डर के पास हुए संघर्ष के बाद बड़ी संख्या में एम्बुलेंस, स्ट्रेचर पर घायल और मृत चीनी सैनिकों को ले जाया गया. चीन के करीब 40 से अधिक सैनिक हताहत हुए हैं. हालांकि, चीन की ओर इसकी पुष्टि नहीं की गई है.

सूत्रों के हवाले से खबर है कि भारत-चीन की बीच हुई झड़प में चीन का भी एक कमांडिंग अफसर मारा गया है, झड़प के दौरान ये ऑफिर चीन सैनिक दल की अगुवाई कर रहा था. भारतीय सेना के भी कमांडिंग अफसर शहीद हो गए हैं. बता दें कि 15-16 जून की रात को गलवान घाटी के पास दोनों देशों के सैनिकों के बीच जो हिंसक झड़प हुई, उसमें चीन को बड़ा नुकसान हुआ है.

चीन बॉर्डर से स्ट्रेचर, एम्बुलेंस के जरिए घायल-मृत सैनिकों को ले जा रहा है. इसके अलावा गलवान नदी के पास चीनी हेलिकॉप्टर की हलचल बढ़ी है, जिसके जरिए सैनिकों को ले जाया जा रहा है. इसके अलावा जो सैनिक चीन के साथ हुई इस झड़प शामिल थे, उन्होंने भी इस बात की पुष्टि की है. हालांकि, चीन को कितना नुकसान हुआ है इसका सटीक आंकड़ा अभी सामने नहीं आया है. लेकिन एक अनुमान के मुताबिक, चीन के 40 सैनिक हताहत हुए हैं.

वहीं भारतीय सेना की ओर से अपने आधिकारिक बयान में जानकारी दी गई कि भिड़ंत में 20 जवान शहीद हुए हैं. शुरुआत में तीन के शहीद होने की जानकारी सामने आई थी, उसके बाद अन्य 17 को जोड़ा गया. सेना की ओर से आज इन सभी 20 शहीदों के नाम जारी किए जाएंगे.

भारत और चीन के बीच मई के महीने से ही लद्दाख में तनाव चल रहा था. समझौते के तहत चीन को मौजूदा जगह से पीछे हटना था, जब भारतीय सेना के जवान वहां पर उसे सूचित करने पहुंचे. तो धोखे से चीनी सेना ने भारतीय जवानों पर हमला कर दिया. इसी दौरान भारत के कमांडिंग अफसर समेत कुल 20 जांबाज जवान शहीद हो गए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here