6 महीने में भारत ने ट्विटर से मांगी सबसे ज्यादा जानकारी, कंपनी ने जारी की रिपोर्ट

केंद्र और ट्विटर के बीच कई दिनों से टकराव चल रहा है। सरकार की तरफ से सभी जानकारी ट्विटर से ली जा रही है।

0
283
Twitter War in India
केंद्र और ट्विटर के बीच कई दिनों से टकराव चल रहा है। सरकार की तरफ से सभी जानकारी ट्विटर से ली जा रही है।

New Delhi: केंद्र और ट्विटर (Twitter War in India) के बीच कई दिनों से टकराव चल रहा है। पिछले साल जुलाई से दिसंबर के बीच सरकार की तरफ से सभी जानकारी ट्विटर से ली जा रही है। ट्विटर ने अपनी पारदर्शिता रिपोर्ट वाले ब्लॉग में कहा कि भारत सामग्री को हटाने की कानूनी मांगों की संख्या के लिहाज से भी जापान के बाद दूसरे स्थान पर है।  

आज वाराणसी दौरे पर रहेंगे पीएम मोदी, कई परियोजनाओं पर होगा मंथन…

कंटेंट हटाने में कौनसा शहर सबसे आगे

ट्विटर (Twitter War in India) का कहना है कि कंटेट हटाने में जापान सबसे आगे है। इसके बाद भारत, रूस, तुर्की और दक्षिण कोरिया आते हैं। भारत में नये सूचना प्रौद्योगिकी नियमों का पालन ना करने के लिए सरकार के निशाने पर रही है। 

हरिद्वार आए कांवड़ियों पर होंगे मुकदमे दर्ज, जानें कांवड़ यात्रा का इतिहास और महत्व

ट्विटर (Twitter War in India) ने अपने नये ब्लॉग ने कहा कि उसने दुनियाभर की सरकारों के इस तरह के अनुरोधों में से 30 प्रतिशत अनुरोधों के जवाब में कुछ या पूरी सूचना मुहैया कराई। इसके बावजूद हमसे पारदर्शिता की रिपोर्ट मांगी जा रही है। 

देश से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें National News in Hindi 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here