बारिश से देश में हाहाकर, कही भूस्खलन तो कही बाढ़

उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, ओडिशा, गुजरात, जम्मू कश्मीर, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, पश्चिम बंगाल और असम के कुछ हिस्सों में भारी बारिश हो सकती है.

0
268
Heavy Rain
बारिश से देश में हाहाकर, कही भूस्खलन तो कही बाढ़

Delhi: देशभर में भारी बारिश के बाद नदिया उफान पर है. जिससे कई राज्य बाढ़ से परेशान है और कई राज्यों पर बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है. पहाड़ों पर भूस्खलन (Landslide) और मैदानी इलाकों में बाढ़ का कहर जारी हैं. इस बीच मौसम विभाग (IMD) ने शुक्रवार और शनिवार के लिए (Weather Forecast) कई राज्यों में भारी बारिश (Heavy Rain) की संभावना को देखते हुए अलर्ट जारी किया है. मौसम विभाग (India Meteorological Department) का कहना है कि उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, ओडिशा, गुजरात, जम्मू कश्मीर, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, पश्चिम बंगाल और असम के कुछ हिस्सों में भारी बारिश हो सकती है. जबकि उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर, शामली, कैराना, सहारनपुर, और हरियाणा के जींद, कुरुक्षेत्र, यमुनानगर समेत आस-पास के इलाकों में गरज के साथ बारिश की संभावना है.

ऑड-ईवन फॉर्मूला के साथ इस दिन शुरु हो सकता है संसद का सत्र

वही उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद में बारिश (Heavy Rain) से गंगा नदी (Ganga River) में आई बाढ़ से तबाही मची है. जिले के तीन दर्जन से ज्यादा गांव प्रभावित हुए हैं. गंगा के तटवर्ती इलाके में बाढ़ का पानी घुस गया है. जिससे फसलें तबाह हो गई हैं. इस इलाके में गंगा नदी खतरे के निशान के पार पहुंच गई है. वहीं, वाराणसी में गंगा में बढ़ते जलस्तर की वजह से कई घाट डूब गए हैं. गंगा किनारे के मंदिरों में पानी घुस गया है. 84 घाटों का आपसी संपर्क टूट चुका है. साथ ही तटवर्ती इलाकों के सीवेज और ड्रेनेज सिस्टम की साफ-सफाई नहीं होने से आधा दर्जन कॉलोनियां जलमग्न हो गई हैं.

इन शर्तो के साथ सितंबर में शुरू होने जा रही है दिल्ली में मेट्रो सेवा…

साथ ही पहाड़ों पर बारिश से नदी नाले उफान पर हैं. जिसकी वजह से कहीं सैलाब गाड़ियों को बहाकर ले जा रही है, तो कहीं पहाड़ टूटकर बिखर रहे हैं. और पहाड़ों का मलबा सड़कों पर आ रहा है. उत्तराखंड के पिथौरागढ़ में लगातार बारिश में पहाड़ का हिस्सा भरभरा कर ऐसा गिरा कि नीचे बनी बस्तियों में चीख-पुकार मच गई. पहली बार लोगों ने इतने बड़े पहाड़ को इस तरह बिखरते हुए देखा. हालांकि, राहत की बात ये है कि इस दौरान किसी के हताहत होने की खबर नहीं आई.

बारामूला में मारे गए तीन आतंकी, DGP ने प्रेस वार्ता कर दी जानकारी

वही देश की राजधानी दिल्ली और उससे सटे गुरुग्राम में भी चंद घंटे की बारिश से गुरुवार को लोग परेशान होते रहे. गुरुग्राम के गोल्फ कोर्स रोड, मेडिसिटी हॉस्पिटल, इफ्को चौक समेत कई इलाकों में लोगों को सड़कों पर जलभराव से काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा. कई जगह तो घरों के बेसमेंट में भी पानी घुस गया. वही समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक बाढ़ से उत्तर प्रदेश के 16 जिलों के 875 गांवों में जनजीवन अस्तव्यस्त है. इनमें 578 का सम्पर्क बाकी क्षेत्रों से कट गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here