केंद्र से टकराव, क्या अन्नदाताओं की बात मानेगी सरकार

प्रदर्शनकारी और केंद्र सरकार के बीच कृषि कानून पर बात नहीं बन रही है। इन सब के बीच किसानों ने आंदोलन तेज कर दिया है।

0
306
Farmers Protest Updates
प्रदर्शनकारी और केंद्र सरकार के बीच कृषि कानून पर बात नहीं बन रही है। इन सब के बीच किसानों ने आंदोलन तेज कर दिया है।

New Delhi: कृषि कानून के खिलाफ किसानों का आज 10वें (Farmers Protest Updates) दिन है। दिल्ली बॉर्डर पर जमे किसान संगठनों और सरकार के बीच आज पांचवें दौर की चर्चा होगी। गुरुवार को हुई चौथे दौर की बातचीत में कोई हल नही निकल पाया। एक तरफ किसान संगठन कानून को पूरी तरह वापस लेने पर अड़े हैं। तो वहीं सरकार बातचीत करने में लगी हुई है।इसके लिए संसद का विशेष सत्र बुलाने की भी मांग की गई है। आज 2 बजे एक बार फिर आंदोलनकारी और केंद्र सरकार आमने-सामने (Farmers Protest Updates) होंगे।

तमाम कोशिशों के बावजूद प्रदर्शनकारी और केंद्र सरकार के बीच कृषि कानून पर बात नहीं बन रही है। इन सब के बीच किसानों ने आंदोलन (Farmers Protest Updates) तेज कर दिया है। अब इस मुद्दे पर नया मोड़ सामने आ गया है। किसानों का कहना है कि अगर सरकार उनकी मांगों को पूरा नहीं करती है तो 8 दिसंबर को भारत बंद कर कर दिया जाएगा। 

हर साल 4 दिसंबर को क्यों मनाया जाता है भारतीय नौसेना दिवस?

बता दें दिल्ली-गाजियाबाद बॉर्डर पर प्रदर्शन (Farmers Protest Updates) की कर रहे किसान नेता राकेश टिकैत ने 8 तारीख के भारत बंद करने की चेतावनी दी है। साथ ही इस बार 26 जनवरी की परेड में किसानों के पूरे सिस्टम को शामिल किया जाए। ट्रैक्टर हमेशा उबड़-खाबड़ ज़मीन पर ही चला है उसे भी राजपथ की सड़क पर चलने का मौका दिए जाए। 

कृषि कानून को लेकर हर दल के समर्थक राजनीतिक रोटियां सेंकने से बाज नहीं आ रहे हैं! खास बात यह है कि इस वक्त विपक्ष चाहे तो अपना पलड़ा भारी कर (Farmers Protest Updates) सकता है। यानी केंद्र सरकार को बैकफुट पर लाने का अच्छा मौका है। इसलिए, विपक्ष किसानों का हितेशी बना हुआ है! इसी बीच दोनों पार्टियों को बीच आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला जारी है। दरअसल, दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री और आप नेता मनीष सिसोदिया ने शुक्रवार को पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह पर हमला बोला। मनीष ने कहा कि पंजाब के किसानों को राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा बता रहे हैं। पंजाब के मुख्यमंत्री आज बीजेपी के मुख्यमंत्री की तरह व्यवहार कर रहे हैं।’ 

सुशील मोदी की राह पर आई आंच, सामने आया इस प्रत्याशी का नाम!

उन्होंने किसानों के मुद्दे पर केंद्र सरकार को भी निशाने पर लिया। सिसोदिया ने कहा, ‘ये बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है कि देश के किसानों की आवाज दबाई जा रही है, साथ ही कहा कि केंद्र सरकार और कांग्रेस राजनीति कर रही है। कैप्टन अमरिंदर सिंह बीजेपी के नेताओं से मिलते हैं, जो कहने के लिए पंजाब के मुख्यमंत्री हैं और बीजेपी का बचाव करते हैं।’ अमरिंदर पर इसी तरह का हमला आप के अन्य नेता और स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन और पार्टी प्रवक्ता राघव चड्ढा ने भी किया। एक तरफ केंद्र सरकार कृषि कानून बिल को वापिस लेने को तैयार नही है। तो वहीं दूसरी तरफ किसान अपनी मांगों पर अड़े हुए है। सवाल यह उठता है कि क्या सरकार और किसानों के बीच बात बन पाएगी। या राजनीति के चलते भारत को नुकसान पहुंचेगा!

राजनीति से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें Political News in Hindi 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें. 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here