नहीं रहें पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, इस बीमारी से थे पीड़ित

सेना के अनुसंधान एवं रेफरल अस्पताल ने बताया था कि मुखर्जी (Pranab Mukherjee) का स्वास्थ्य सोमवार को और खराब हो गया गिरावट दर्ज की गई.

0
185
Pranab Mukherjee
नहीं रहें पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, इस बीमारी से थे पीड़ित

Delhi: सोमवार शाम पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी (Ex President Pranab Mukherjee) का निधन हो गया. 84 साल के प्रणब मुखर्जी (Pranab Mukherjee) पिछले कुछ समय से बीमार चल रहें थे. उनके निधन की जानकारी उनके बेटे अभिजीत मुखर्जी (Abhijit Mukherjee) ने ट्वीट कर दी. पूर्व राष्ट्रपति को 10 अगस्त को सेना के RR अस्पताल में भर्ती कराया गया था और उनकी मस्तिष्क की सर्जरी की गई थी. बाद में उनके फेफड़ों में भी संक्रमण हो गया था. अस्पताल में उनका इलाज विशेषज्ञों की एक टीम कर रही थी. सेना के अनुसंधान एवं रेफरल अस्पताल ने बताया था कि मुखर्जी का स्वास्थ्य सोमवार को और खराब हो गया गिरावट दर्ज की गई क्योंकि उन्हें फेफड़े में संक्रमण की वजह से सेप्टिक शॉक लगा है.

गृहमंत्री अमित शाह हुए स्वस्थ, अस्पताल से मिली छुट्टी

प्रणब मुखर्जी (Pranab Mukherjee) भारत के चहेते राष्ट्रपतियों में शुमार है. उन्हें दिल्ली में आर्मी हॉस्पिटल रिसर्च एंड रेफरल में भर्ती किया गया था. उनके ब्रेन में एक थक्का (Clot) बन गया था, जिसके कारण उनकी ब्रेन सर्जरी की गई, जिसके बाद उनकी हालत नाजुक होने के चलते उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था. पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के बेटे अभिजीत मुखर्जी ने ट्वीट करके लिखा, ”भारी मन के साथ, आपको यह सूचित करना है कि मेरे पिता श्री प्रणव मुखर्जी का अभी आरआर अस्पताल के डॉक्टरों के सर्वोत्तम प्रयासों और पूरे भारत में लोगों से मिली दुआओं और प्रार्थनाओं के बावजूद निधन हो गया है! मैं आप सभी को धन्यवाद देता हूं.”

भारत-चीन के बीच एक बार फिर झड़प, चीनी सैनिकों ने की घुसपैठ की कोशिश

बता दें कि 11 दिसंबर 1935 में जन्में भारत रत्न प्रणब मुखर्जी के जाने पर पूरे देश में शोक की लहर है. नेताओं से लेकर आम जनता उन्हें श्रद्धांजलि दे रही है. राष्ट्रपति को महामहिम कहे जाने की रीति से ऐतराज करने वाले प्रणब मुखर्जी 2012 से 2017 तक भारत के राष्ट्रपति थे. उनका राजनीतिक जीवन 40 सालों से भी ज्यादा लंबा रहा है. कांग्रेस पार्टी में रहते हुए उन्होंने विदेश से लेकर रक्षा, वित्त और वाणिज्य मंत्री तक की भूमिका निभाई.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here