पीएम मोदी ने दिया बड़ा बयान, कहा- ‘हमें नहीं पता कब आएगी वैक्सीन!’

पीएम मोदी का बड़ा बयान सामने आया है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हम नहीं जानते भारत में कोविड-वैक्सीन कब आएगी। 

0
441
PM Awas Yojana
पीएम मोदी का बड़ा बयान सामने आया है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हम नहीं जानते भारत में कोविड-वैक्सीन कब आएगी। 

New Delhi: कोरोना वायरस (Covid 19 Vaccine) को लेकर आठ राज्यों के मुख्यमंत्रियों और एलजी के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज वर्चुअल मीटिंग की, इस दौरान पीएम मोदी का बड़ा बयान सामने आया है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हम नहीं जानते भारत में कोविड वैक्सीन कब आएगी। बल्कि ये वैज्ञानिकों के हाथ में है। पीएम मोदी ने मंगलवार को आठ राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक (Covid 19 Vaccine) में ये बात कही। 

TMC सांसद ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा- प्यार को राजनीतिक हथकंडा ना बनाए

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कुछ लोग इस मामले पर राजनीति कर रहे हैं, लेकिन यह भी सच है कि किसी को राजनीति करने से नहीं रोका जा सकता है। सूत्रों की मानें, तो पीएम मोदी ने कहा कि वैक्सीन (Covid 19 Vaccine) आने पर फ्रंटलाइन वर्कर्स सभी की प्राथमिकताएं होनी चाहिए, केंद्र-राज्यों को एक साथ काम करना होगा। इसके अलावा पीएम मोदी ने भरोसा दिलाया कि वैक्सीन उपलब्ध कराने का काम पारदर्शी तरीके से किया जाएगा। यानी घोटला करने वालों पर नजर रहेगी। 

केजरीवाल ने मीटिंग में कहा कि दिल्ली ने 10 नवंबर को 8600 मामलों का पीक (Corona Virus) देखा। उसके बाद से नए मामले और पॉजिटिविटी रेट कम हो रही है और उम्मीद है कि यह ट्रेंड बना रहेगा। साथ ही उन्होंने केंद्र सरकार के अस्पतालों में 1000 आईसीयू बेड रिजर्व करने का आग्रह किया है। सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि तीसरे दौर में मामलों की इतनी गंभीरता के कई कारण हैं। प्रदूषण भी एक अहम वजह है। केजरीवाल ने प्रधानमंत्री से मांग की है कि वह दिल्ली से लगने वाले राज्यों में पराली से होने वाले प्रदूषण के मामले को गंभीरता से ले, साथ ही पराली के समाधान के लिए डी कंपोजर उपलब्ध है। 

इन राज्यों के CM के साथ प्रधानमंत्री की वर्चुअल मीटिंग जारी, कोरोना पर आएगा बड़ा फैसला!

बता दें कि भारत में कोरोना वैक्सीन (Corona Virus) विकसिनत करने के लिए परीक्षण किए जा रहे हैं। भारत में सीरम इंस्टीट्यूट के साथ एस्ट्राजेनेका की साझेदारी है। जानकारी के अनुसार ऑक्‍सफोर्ड वैक्‍सीन की माने तो जनवरी-फरवरी तक 10 करोड़ कोरोना वैक्‍सीन के डोज उपलब्‍ध करा सकते हैं। उन्‍होंने कहा कि करीब चार करोड़ डोज तैयार हो चुके हैं और केंद्र सरकार बड़े पैमाने पर यह डोज 250 रुपये या इससे कुछ कम राशि में खरीद सकती है। 

देश से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें National News in Hindi 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें. 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here