किस जानवर के खून से हुआ एंटीबॉडी तैयार ? क्या कोरोना को देगा मात…

कोरोना से जीतने के लिए संघर्ष किया जा रहा है और तमाम देशो के वैज्ञानिक कोरोना वैक्सीन बनाने में 100 प्रतिशत दें रहे है।

0
287
Coronavius Treatment
कोरोना से जीतने के लिए संघर्ष किया जा रहा है और तमाम देशो के वैज्ञानिक कोरोना वैक्सीन बनाने में 100 प्रतिशत दें रहे है।

कोरोना वायरस (Coronavius Treatment) से पुरी दुनिया परेशान है। इस समय देश में कोरोना से जीतने के लिए संघर्ष किया जा रहा है और तमाम देशो के वैज्ञानिक कोरोना की वैक्सीन बनाने में अपना पुरा 100 प्रतिशत दें रहे है। भारत देश के वैज्ञानिको ने भी करीब 2 साल में कोरोना वैक्सीन को तैयार किया है।

कहा हुआ नया ट्रायल

जानकारी के मुताबिक जर्मनी स्थित मैक्स प्लैंक इंस्टिट्यूट (एमपीआई) फॉर बायोफिजिकल केमिस्ट्री के रिसर्चर्स में जर्मनी के वैज्ञानिकों ने भेड़ के खून से ऐसी शक्तिशाली एंटीबॉडी को विकसित किया हैं जो कोविड-19 को और इसके नए घातक स्वरूपों को मजबूत ढंग से खत्म करने की कोशिश की है।

एंटीबॉडी का क्लिनिकल ट्रायल

वैज्ञानिकों ने बताया कि वो एंटीबॉडी (Coronavius Treatment) का क्लिनिकल ट्रायल किए जाने की तैयारी कर रहा है। खास बात ये है कि कम पैसों में इन एंटीबॉडी का उत्पादन बड़ी मात्रा में किया जाएगा, ये देश के लिए बेहद कारगार साबित हो सकती है। एमपीआई में बायोफिजिकल केमिस्ट्री के निदेशक डिर्क गोरलिक ने कहा कि इन वेरिएंट में अल्फा, बीटा, डेल्टा और गामा शामिल हैं और इन छोटी एंटीबॉडी को मैनोबॉडी भी कहते हैं इन्हें अभी क्लिनिकल ट्रायल में तैयार किया जा रहा है।

एंटीबॉडी क्या? कैसे लगाएं पता !

एंटीबॉडी आपके शरीर का वो हिस्सा है जिसकी शुरूआत हमारा इम्यून सिस्टम से शरीर में वायरस को बेअसर करने के लिए पैदा करता है। संक्रमण होने के बाद एंटीबॉडीज बनने में कई बार हफ्ते भर का वक्त लग सकता है। एंटीबॉडी दो प्रकार के होते हैं पहला- आईजीएम (इम्यूनोग्लोबुलिन एम) और आईजीजी (इम्यूनोग्लोबुलिन जी) कोरोना की जांच के लिए एक और टेस्ट एंटीबॉडी टेस्ट है। एंटीबॉडी टेस्ट खून का सैंपल लेकर किया जाता है इसलिए इसे सीरोलॉजिकल टेस्ट भी कहते हैं। ये RT-PCR के मुकाबले कम खर्चीला होता है। 

Also Read: PM मोदी ने कांग्रेस पर साधा निशाना, कहा- ‘बाकी दलों को भड़काते है ये लोग’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here