गुजरात में हालात बेकाबू, 260 मौतें और सरकारी कागजों में सिर्फ 36

हालात इतने बेकाबू हो गए है कि लाशें जलाने की जगह नहीं हैं। एक ही चिता में पांच लाशें जलाई जा Coronavirus रही है।

0
295
Coronavirus in Gujrat
हालात इतने बेकाबू हो गए है कि लाशें जलाने की जगह नहीं हैं। एक ही चिता में पांच लाशें जलाई जा Coronavirus रही है।

Gujrat: एक ही चिता में पांच लाशें जलाई जा रही है, ये सब सूरत के श्मशान घाट पर हो रहा है। हालात इतने बेकाबू हो गए है कि लाशें जलाने की जगह भी नहीं (Coronavirus in Gujrat) हैं। ये सिर्फ गुजरात में ही नहीं, पूरे गुजरात के श्मशान घाटों का यही हाल है। हैरानी वाली बात है कि कोरोना वायरस से मौत के बाद श्मशान पहुंच रहीं लाशों की संख्या और आंकड़ों में जमीन आसमान का अंतर देखने को मिल (Coronavirus in Gujrat) रहा है। 

12 राज्यों को ऑक्सीजन की बेहद जरूरत, केंद्र सरकार ने लिया फैसला

बता दें मध्य गुजरात के हॉस्पिटलों में पिछले नौ दिनों में कोविड (Covid-19) आईसीयू में कम से कम 180 लोगों की मौत हुई। वडोदरा के GMERS मेडिकल कॉलेज और अस्पताल गोत्री के आंकड़े देखें तो कोविड आईसीयू में अकेले 7 अप्रैल से 15 अप्रैल तक 90 मौतें हुई हैं, जबकि चौथी और पांचवीं मंजिल पर आईसीयू में रोजाना कम से कम 15 लोगों की जान जा रही हैं। 

क्या आपके राज्य में भी लगेगा Lockdown? जानें आपने शहर का हाल

लगातार दाह संस्कार

गुरुवार को जो आंकड़े जारी किए उसमें 25 मौतें हुई है। स्वास्थ्य विभाग की बात की जाए तो सरकारी आंकड़ों में कोरोना (Coronavirus in Gujrat) की मौतें कम दिखाई जा रही हैं।’ सूरत में, एक बार में पांच शवों को जलाने के लिए 18 फीट लीबे और आठ फीट चौड़ी चिता बनाई गई है। साथ शवों दूरी पर रखकर जलाया जा रहा है। 

देश से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें National News in Hindi 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here