भारत में बनी वैक्सीन की पूरी दुनिया में मांग, 10 देशों ने लगाई गुहार

वैक्सीन की मांग पूरी दुनिया में बढ़ती जा रही है। अब तक 10 ऐसे देश हैं, जिन्होंने भारत में बनी वैक्सीन की मांग की है।

0
122
Corona Vaccine 2021
वैक्सीन की मांग पूरी दुनिया में बढ़ती जा रही है। अब तक 10 ऐसे देश हैं, जिन्होंने भारत में बनी वैक्सीन की मांग की है।

New Delhi: कोरोना वायरस के बीच कोविड-19 वैक्सिन (Corona Vaccine 2021) की डिंमाड बाकी देशों में बढ़ गई है। ‘मेड इन इंडिया’ वैक्सीन की मांग पूरी दुनिया में बढ़ती जा रही है। अब तक 10 ऐसे देश हैं, जिन्होंने भारत में बनी वैक्सीन की मांग की है। वैक्सीन की मांग एशियाई देशों से भी आने वाली है। सूत्रों की माने तो भारत अपनी जरुरतों को पूरा करने के बाद दुनिया के बाकी देशों में भी वैक्सिन भेजी देगी। ब्राजील, मोरक्को, सऊदी अरब, म्यांमार, बांग्लादेश, दक्षिण अफ्रीका, मंगोलिया, श्रीलंका जैसे देशों ने भारत से वैक्सीन की आधिकारिक (Corona Vaccine 2021) तौर पर मांग की है। 

कोरोना से जंग जीतने को तैयार भारत, 13 शहरों में भेजी गई वैक्सीन की पहली खेप

बता दें भारत सरकार ने बांग्लादेश, भूटान, नेपाल, श्रीलंका और अफगानिस्तान जैसे पड़ोसी देशों को तवज्जो देगी। साथ ही अन्य देशों (Corona Vaccine 2021) से आने वाली डिमांड को भी पूरा करने का प्रयास किया जाएगा। गरीब देशों के लिए (WHO) में जाहिर की गई प्रतिबद्धता को भी भारत पूरा करेगा। दरअसल, भारत बायोटेक- एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन की 20 लाख डोज जल्द से जल्द देने को कहा है। हालांकि भारत की ओर से जो प्लान तैयार किया गया है उसके मुताबिक कोरोना वैक्सीन पहले पड़ोसी देशों को दी जाएगी, उसके बाद अन्य देशों का नंबर आएगा।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा कि भारत शुरू से ही दुनिया (CoronaVirus) के साथ कोरोना की जंग लड़ रहा है। हम इस दिशा में सहयोग करने को तैयार है। हमारी कोशिश है कि इस जंग में हम दुनिया की ज्यादा से ज्यादा मदद कर सकें। DCGI ने सीरम इंस्टीट्यूट की वैक्सीन कोविशील्ड और भारत बायोटेक की वैक्सीन और कोवैक्सीन के आपातकाल इस्तेमाल को आखिरी मंजूरी दे दी है। 

देश में इस दिन से लगेगी कोरोना की वैक्सीन, जानिए इसके बारे में सब कुछ

खास बात ये है कि चीन ने कोरोना वयारस टिकों (CoronaVirus) को लेकर भारत की तारीफ की है। चीन कम्युनिस्ट पार्टी के ग्लोबल टाइम्स में प्रकाशित एक लेख में चीनी विशेषज्ञों ने एक आवाज में ये कहा है कि भारत में निर्मित हुए कोरोनावायरस के टीके चीनी टीकों के मुकाबले किसी भी से कम नहीं हैं। 

देश से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें National News in Hindi 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here