देशभर में बर्ड फ्लू की दहशत, जानें सरकार ने क्या कहा?

देश के कई राज्यों में बर्ड फ्लू फैल चुका है। इसके खतरे को देखते हुए केंद्र सरकार ने कंट्रोल रूम बनाया है।

0
223
Bird Flu
देशभर में बर्ड फ्लू की दहशत, जानें सरकार ने क्या कहा?

New Delhi: कोरोना महामारी के बीच अब देश में बर्ड फ्लू का खतरा बढ़ता ही जा रहा है। देश के कई राज्यों में बर्ड फ्लू फैल चुका है। इसके खतरे को देखते हुए केंद्र सरकार ने कंट्रोल रूम बनाया है। सरकार का कहना है कि सर्दियों में देश में आए प्रवासी पक्षियों की वजह से ये बीमारी फैल रही है। लेकिन अब तक बर्ड फ्लू (Bird Flu) का संक्रमण इंसानों में फैलने का कोई मामला सामने नहीं आया है।

देश के सभी जिलों में 8 जनवरी को ड्राई रन, किन दस्तावेजों की होगी जरूरत?

केंद्रीय पशुपालन मंत्री गिरिराज सिंह ने एक न्यूज चैनल से बातचीत के दौरान कहा कि अक्टूबर 2020 से सभी राज्यों को एडवाइजरी जारी कर दि गई थी। वहीं अभी तक सरकार के पास कोई भी ऐसी रिपोर्ट नहीं आई है जिसमें इंसानों में ये संक्रमण पाया गया हो। उन्होंने बताया कि फिलहाल सात-आठ राज्यों में इस फ्लू (Bird Flu 2021 India)की पुष्टी की गई है। वहीं इसका सबसे ज्यादा प्रभाव केरल में बत्तखों पर हुआ है।

इसके साथ ही उन्होंने विश्व पशु संगठन का हवाला देते हुए कहा कि अच्छे से पके पोलेट्री मीट और अंडे को खाने में कोई दिक्कत नहीं है। इससे (Bird Flu) कोई रोग नहीं फैलता है। पुशपालन विभाग के अनुसार बर्ड फ्लू (Latest news in Hindi) अभी चार राज्यों में 12 स्थानों पर फैला हुआ है।

दिल्ली में कोरोना वायरस के 442 नए मामले, जानिए कितनों की हुई मौत

बता दें कि बर्ड फ्लू के कारण चिकन कारोबार में भी काफी संकट आ गया है। बर्ड फ्लू ने राजधानी के करीब 25 हजार चिकन कारोबारियों को मुश्किल में डाल दिया है। इसके कारण लोगों की सतर्कता से चिकन और अंडे का कारोबार घटकर आधा रह गया है। वहीं मध्य प्रदेश सरकार ने दक्षिण भारत के केरल सहित सीमावर्ती राज्यों से 10 दिन तक के लिए मुर्गो की सप्लाई पर रोक लगा दी है।

राज्यों से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें State News in Hindi


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here