इस बार ग्रीन पटाखों के साथ मनाएं प्रदूषण रहित दिवाली, ये हैं बेस्ट क्रैकर्स

अगर आप प्रदूषण फैलाने वाले पटाखे फोड़ते हैं तो आपको भारी पड़ सकता है। ऐसे में हम आपको बताने जा रहे हैं कुछ ऐसे पटाखों के बारे में जो आवाज के मामले में तो आम पटाखों की तरह ही होते हैं, लेकिन प्रदूषण नहीं फैलाते।

0
131

नई दिल्ली: इस बार दिवाली 27 अक्टूबर यानि कि रविवार को मनाई जा रही है। यूं तो दिवाली मुख्य रूप से रोशनी का त्योहार है, लेकिन इस दिन खूब पटाखे भी फोड़े जाते हैं। हालांकि, बढ़ते हुए प्रदूषण को देखते हुए पटाखे फोड़ना अवॉइड करना चाहिए और अब तो पर्यावरण संरक्षण कानून के तहत प्रदूषण फैलाने वाले के लिए 5 से 7 साल तक की सजा और 10 करोड़ तक का जुर्माने का प्रवधान किया गया है। ऐसे में अगर आप प्रदूषण फैलाने वाले पटाखे फोड़ते हैं तो आपको भारी पड़ सकता है। ऐसे में हम आपको बताने जा रहे हैं कुछ ऐसे पटाखों के बारे में जो आवाज के मामले में तो आम पटाखों की तरह ही होते हैं, लेकिन प्रदूषण नहीं फैलाते। चलिए जानते हैं ऐसे ही कुछ ग्रीन पटाखों के बारे में-

पानी वाले पटाखे

इस तरह के पटाखों को सेफ वाटर रिलीजन कहा जाता है, क्योंकि ये पटाखे जलने के बाद पानी की बूंदे उत्पन्न करता है। इन बूंदों में सल्फर और नाइट्रोजन के कण घुल जाते हैं। इसके बाद ये पानी हवा में फैले प्रदूषण को कम करने काम करता है।

ये भी पढ़ें- इस दिवाली पटाखे फोड़ना पड़ सकता है महंगा, सजा के साथ 10 करोड़ तक का लग सकता है जुर्माना

स्टार क्रैकर

इस तरह के पटाखों में कम सल्फर, नाइट्रोजन और बेरियम होता है। इन पटाखों को फोड़ने पर सल्फर और नाइट्रोजन कम मात्रा में उत्पन्न होता है, जिससे प्रदूषण भी कम होता है।

अरोमा क्रैकर्स

इस तरह के पटाखों को अरोमा की खुशबू के साथ तैयार किया जाता है और जब इस तरह के पटाखों को जलाया जाता है तो ये पटाखे हवा में अच्छी खुसबू भी फैलाते हैं।

कहां से मिलेंगे ये पटाखे

अगर आप चाहते हैं कि आपकी दिवाली फीकी न हो और साथ ही प्रदूषण भी न हो तो ऐसे में ग्रीन पटाखे आपके लिए बेहतर विकल्प है। ग्रीन पटाखों को आप होलसेल मार्केट से खरीद सकते हैं। यहां से ये आपको कम दाम में भी मिल जाएंगें। हालांकि, ये पटाखे आपको आम पटाखों की तुलना में थोड़े महंगे मिलेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here