डॉक्टर से बिना पूछे ली दवाई, तो भुगतना पड़ सकता है बुरा अंजाम

अगर आप भी डॉक्टर को बिना दिखाए कोई भी पेन किलर सिर दर्द, बदन दर्द जैसी परेशानियों के लिए ले लेते हैं तो सतर्क हो जाएं।

0
265
lifestyle news
अगर आप भी डॉक्टर को बिना दिखाए कोई भी पेन किलर सिर दर्द, बदन दर्द जैसी परेशानियों के लिए ले लेते हैं तो सतर्क हो जाएं।

अगर आप भी डॉक्टर को बिना दिखाए कोई भी पेन किलर सिर दर्द, बदन दर्द जैसी परेशानियों के लिए ले लेते हैं तो सतर्क हो जाएं। ऐसा करना आपको (lifestyle news) भारी पड़ सकता है, ये कदम आपकी सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है। बिना डॉक्टर की सलाह से ली दवाई गंभीर रोगों को जन्म दे देती है। आइए देखते हैं किस दवा का सेवन करने से शरीर को नुकसान हो सकता है।

कोरोना से बचना है तो करें सही मास्क का चुनाव

पेन किलर:

पेन किलर (lifestyle news) की जरूरत शरीर में जोड़ों के दर्द से राहत पाने के लिए, दुर्घटना में लगी चोट के दर्द को कम करने के लिए, जलने या कटने की अवस्था में पड़ती है। डॉक्टर से बिना सलाह लिए पेन किलर खाने से दवाई के साइड इफेक्ट भी होते है। पेन किलर दवाओं में एडिक्टिव तत्व पाए जाते हैं। लंबे समय तक अगर इन दवाओं का सेवन करते है तो शरीर को इनकी आदत पड़ जाती है। इसके अलावा यह दवाएं लीवर और किडनी को भी काफी नुकसान करती हैं। इनके सेवन से ब्रेन हेमरेज होने का खतरा बढ़ जाता है। पेन किलर लेने वाले व्यक्ति को गैस की समस्या, पेट में तेजी से दर्द, लूज मोशन, आदि लक्षण साइड इफेक्ट के रूप में नजर आते है।

ठंड का असर कम करती है अश्वगंधा, जानें कैसे

कफ सिरप:

कफ सिरप गले में दर्द या खराश, छाती में जकड़न, खांसी के साथ कफ या सूखी खांसी के लिए लेते है। लोग कफ सिरप को बहुत हलके में लेते है, मगर उसे भी साइड इफेक्ट हो सकता है। (lifestyle news) ऐसे व्यक्ति में सुस्ती, घबराहट, हाई ब्लड प्रेशर, दिल की धड़कन का अनियमित होना, नोजिया आदि जैसे लक्षण देखने को मिलते है। अगर आपको मामूली खांसी है तो आपको गुनगुने पानी में नमक डालकर गरारे करना चाहिए। इसके अलावा अदरक और तुलसी से बने काढ़े का सेवन भी राहत दे सकता है।

लैक्जेटिव मेडिसिन:

लैक्जेटिव मेडिसिन कब्ज की समस्या को दूर (lifestyle news) करने के लिए होता है। इसके अलावा सर्जरी या डिलीवरी से पहले भी पेट साफ करने के लिए डॉक्टर इन दवाइयों का सेवन करने की सलाह देते हैं। लैक्जेटिव मेडिसिन के भी साइड इफेक्ट होते है। लंबे समय तक इन दवाओं का सेवन करने से व्यक्ति को पेट में दर्द, लूज मोशन, किडनी में स्टोन, डिहाइड्रेशन, हार्ट मसल्स का कमजोर पड़ना आदि परेशानी होती हैं।

एंटीबायोटिक्स:

एंटीबायोटिक्स खाने की सलाह तब दी जाती है जब उसे बुखार (lifestyle news) या किसी तरह की एलर्जी की कोई शिकायत हो। इस तरह की दवाएं बैक्टीरिया और फंगस को खत्म करने में मददगार होती है। एंटीबायोटिक्स हमेशा डॉक्टर की सलहा से ही लेना चाहिए, बिना पूछे एंटीबायोटिक्स का सेवन करने से त्वचा में एलर्जी जैसी समस्याएं हो सकती हैं। लंबे समय तक इन दवाओं का सेवन करने पर व्यक्ति की रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर हो जाती है। साथ ही दवाई का असर होना बंद हो जाता है।

लाइफस्टाइल से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें Lifestyle News in Hindi 


देश और दुनिया से जुड़ी Hindi News की ताज़ा खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें. Youtube Channel यहाँ सब्सक्राइब करें। सोशल से जुड़ने के लिए हमारा Facebook Page लाइक करें, Twitter पर फॉलो करें और Android App डाउनलोड करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here